Cycle की चोरी होने की शिकायत करते हुए थानाध्यक्ष को पत्र

‌‌‌इस लेख के अंदर हम आपको cycle चोरी होने की शिकायत करते हुए थानाध्यक्ष को पत्र कैसे लिखें ‌‌‌इसके साथ ही mobile चोरी होने की शिकायत पर पत्र कैसे लिखते हैं के बारे मे बताने वाले हैं। आम तौर पर आप की यदि साइकिल चोरी हो जाती है। तो आपको थाने के अंदर रिपोर्ट ‌‌‌दर्ज करवानी चाहिए । इसके अलावा यदि आप एक student हैं तो आप के एग्जाम के अंदर चोरी की शिकायत का कोई ‌‌‌पत्र आता है। तो आप नीचे दिये गए आसान प्रारूप को याद कर सकते हैं। आप इस प्रारूप की मदद से केवल साइकिल की चोरी का ही पत्र नहीं लिख सकते ।वरन आप इसी तरह से अन्य प्रकार के चोरी के latter लिख सकते हैं। इस लेख के अंदर हम आपको चोरी की compliant करते हुए पत्र लेखन सीखाने वाले हैं।

police photo

Cycle की चोरी होने की शिकायत करते हुए थानाध्यक्ष को पत्र

‌‌‌सेवा मे
थानाध्यक्ष मोहदया
पुलिस स्टेसन रतननगर
चूरू

‌‌‌विषय साइकिल चोरी की रपट दर्ज करवाने हेतू

‌‌‌मोहदय

मैं आज सुबह 10 बजे चांदनी चौक मे दुकान नम्बर 30 पर गया और अपनी साइकिल उस दुकान के पास मे खड़ी करके । दुकान से सामान खरीदने लगा । सामान खरीदते समय मुझे 20 मिनट लगे होंगे। उसके बाद जब दुकान से बाहर आकर देखा तो साइकिल गायब थी । उसके बाद इधर उधर देखा लेकिन नहीं मिली । मैंने cycle के ‌‌‌ताला भी नहीं लगाया था । क्योंकि मैं ताला लगाना भूल गया था । उसके बाद जब मैंने इधर उधर पूछा तो कोई भी मेरी साइकिल के बारे मे नहीं बता सका । मेरी साइकिल की पहचान यह थी कि उसके सीट कवर लाल रंग का था । उसके पीछे मेरा नाम लिखा था । क्रपया उसे खोजने मे मदद करें।

‌‌‌धन्यवाद

दिनांक ‌‌‌भवदिये

अपना नाम और पूरा पता लिखें

‌‌‌उपर हमने केवल साइकिल चोरी होने के बारे मे आपको पत्र का एक प्रारूप दिया हुआ है। यदि आप इस पत्र को यूज करते हैं तो आपको इसमे कई तरह के बदलाव करने पड़ेंगे । वो क्रूा बदलाव करने हैं इसके बारे मे भी जरा मैं आपको विस्तार से बता देता हूं।

‌‌‌यदि आप इस पत्र का प्रयोग स्टूडेंट के तौर पर कर रहे हैं तो सीधा भी लिख सकते हैं। लेकिन यदि आप इसका प्रयोग रियल के अंदर शिकायत दर्ज करवाने मे कर रहे हैं तो आपको करना यह है कि उपर जहां पर मैंने अपने police station का नाम लिखा है। वहां पर अपने पुलिस स्टेशन का नाम लिखे ।

‌‌‌उसके बाद नीचे आते हैं। तो आपको पूरा ब्योरा लिखना है। जैसे आपकी cycle कब चोरी हुई । आपने उसे किस दुकान के पास या कहां पर रखा था । अपनी cycle की पहचान भी लिखें तो और भी अच्छा है।इसके अलावा आपने साइकिल को कितनी देर बाद देखा । उसके बाद नीचे अपना पूरा एड्रस और नाम लिखदें । student एग्जाम के अंदर यदि इस लेटर का प्रयोग कर रहे हैं तो वे अपने प्रश्नाअनुसार इसके अंदर बदलाव कर सकते हैं। कई बार एग्जाम के अंदर जगह नाम पता दिये हुए आते हैं। फिर उस पर लेटर लिखने के लिए कहा जाता है।

mobile चोरी की शिकायत करते हुए पुलिस निरीक्षक को पत्र

आजकल mobile चोरी बहुत ही आम हो चुकी है। अधिकतर mobile चोरी हो जाते हैं और चोर पकड़े भी नहीं जाते हैं। इसकी बड़ी वजह तो यह है कि अधिकतर कस्टमर मोबाइल चोरी की रपट ही दर्ज नहीं करवाते हैं। ‌‌‌इसकी बड़ी वजह है police का बेकार रेवया यदि आप मोबाइल की शिकायत एक बार police के पा लेकर भी जाएंगे तो वह आपकी रपट आसानी से दर्ज नहीं करेगी । कई बार तो वह आपको भगा देने का प्रयास भी करेगी । mobile चोरी का शिकायती पत्र भी cycle चोरी के शिकायती पत्र के समान ही बस इसके अंदर कुछ बदलाव करने पड़ते हैं।

mobile चोरी की शिकायत करते हुए पुलिस निरीक्षक को पत्र

‌‌‌सेवा मे

थानाध्यक्ष मोहदया

पुलिस स्टेसन रतननगर

चूरू

‌‌‌विषय मोबाइल चोरी की रपट दर्ज करवाने हेतू

‌‌‌मोहदय

मैं आज दिनांक को शाम 4 बजे चूरू के गांव गोगा मे एक shop पर चाय पीने के लिए रूका था । यह घटना तब की है जब मे वहां से गुजर रहा था । मैं जब चाय पी रहा था तो mobile अपने पीछे पड़ी chair पर रख दिया यही कोई 10 मिनट बाद पीछे देखा तो मोबाइल नहीं था ।‌‌‌मैंने मोबाइल को हर जगह तलासा और वहां पर पूछा तो उन्होंने एक व्यक्ति का नाम बताया और बोले की वो आपके पीछे बैठा था । उसके पास आपका mobile हो सकता है। उससे संपर्क करो । मैं जब किसी से पूछताछ करके उसके घर गया तो वह उल्टे मुझसे गाली गलोच करने लगा ।‌‌‌क्रपया मेरी समस्या का समाधान कीजिए

‌‌‌धन्यवाद

दिनांक ‌‌‌भवदिये

अपना नाम और पूरा पता लिखें

‌‌‌जरूरी नहीं है कि मैंने जैसा उपर मोबाइल चोरी के बारे मे लेटर लिखा है। वैसा का वैसा ही आप एग्जाम के अंदर लिखें । आप अपनी खुद की कोई story बनाकर लिख सकते हैं। बस आपको एक चीज ध्यान मे रखनी है आपको यह पता होना चाहिए कि mobile चोरी के लेटर के अंदर किन चीजों को लिखना है। ‌‌‌और किन चीजों को आप mobile चोरी के लेटर के अंदर नहीं लिख सकते ।‌‌‌

आमतौर पर होता यह है कि student को लिखने की सीमाओं के बारे मे पता नहीं होता है। लिखते समय खास तौर पर इस बात का ध्यान अवश्य ही रखें की आप क्या लिख रहे हैं। उसे समझने का प्रयास करें । यदि आप शूरू से ही चीजों को समझने का प्रयास करते हैं तो आपको एग्जाम मे कोई परेशानी नहीं आएगी।

ब्रा पहनने के फायदे और नुकसान history of bra

लड़की को घर से भगाने से पहले जानले यह 8 जरूरी बातें

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *