ऐसा कौन सा जीव है जिसमें खून नहीं होता top 6 animals without blood

अब तक आप यही जानते आये थे । कि दुनिया के अंदर जितने भी जीव पाये जाते हैं। उनके अंदर खून होता है। लेकिन यह बात पूरी तरह से सच नहीं है। दुनिया के अंदर कुछ ऐसे जीव भी पाये जाते हैं। जीनके अंदर खून नहीं होता है।‌‌‌इस लेख के अंदर हम ऐसे जीवों के बारे मे बात करेंगे जिनमे खून नहीं होता है।jellyfish, sea anemones, and corals कुछ ऐसे जीव हैं। जिनके अंदर खून नहीं होता है। यह बिना खून के भी काम करते हैं। आइए जान लेते हैं। यह जीव  बिना खून के कैसे काम करते हैं।

‌‌‌इन जीवों के शरीर के अंदर कोई तरल पदार्थ नहीं होता है। पानी के अंदर से ही इन जीवों को पार्टटस और ऑक्सिजन मिलता है।जब उनके शरीर के बाहर की कोशिकाएँ पानी, ऑक्सीजन और पोषक तत्वों के संपर्क में आती हैं।

jellyfish जीव है जिसमें खून नहीं होता

jellyfish ‌‌‌का नाम तो आप लोगों ने सुना ही होगा ।jellyfish पानी के अंदर रहती है। यह दुनिया का काफी रहस्यपूर्ण जीव है।वैज्ञानिकों का मानना है कि जेलीफ़िश  डायनासोर से पहले के जीव हैं। और आज भी जिंदा हैं। इन जीवों की खास बात यह है कि यह बिना खून के होते हैं। इनमे हर्ट और दिमाग जैसी चीजें नहीं होती हैं। ‌‌‌इनका 95 प्रतिशत शरीर पानी से बना होता है।उनके पास कोई हड्डी नहीं होती है।आपको बतादें कि जैलीफिश कोई मछली नहीं होती है। यह ये जेली या जानवर कोरल और समुद्री एनीमोन के प्रकार के प्लवक  के दूर के रिश्तेदार हैं।

जैलीफिश को यदि समुद्र तट पर धोया जाता है। तो कुछ देर बाद यह वाष्प बनकर उड जाती है।यह तंत्रिका सिस्टम पर काम करते हैं। यह तापमान को महसूस कर सकती है।

किस जीव में खून नहीं होता sea anemones

सी एनेमोन भी एक समुद्री जीव होता है। जो देखने मे एक फूल की तरह लगता है। इसके अंदर भी कोई हडडी नहीं होती है। समुद्र में दृढ़ वस्तुओं से चिपके रहते हैं और अपने जाल के साथ समुद्री जीवों को पकड़ने के लिए इंतजार करते हैं। सी एनेमोन को मांसाहारी  और बिना खून वाला माना जाता है। इनके तंबू में डंक होता है और  तंबू मे कैद मछलियों और अन्य मांसहारी जीवों को यह एनेमोन मुंह के अंदर डालते हैं।इसका व्यास आधा इंच से छह फीट तक हो सकता है। समुद्र के कुछ एनीमोन प्रजातियां 50 साल तक जीवित रह सकती हैं। ‌‌‌यह पानी के अंदर उल्टा तैरते रहते हैं। और धीमी गति से आगे बढ़ते हैं। समुद्री एनीमोन मे ज्यादातर काफी जहरिले होते हैं।

‌‌‌काफी जहरीले होते हैं। इनकी ज्यादातर प्रजातियों को मनुष्य के लिए भी घातक माना जाता है।इनका शरीर का आकार बेलनाकार होता है। यह अपने मुंह से शिकार को खींचते हैं। एक बार जब शिकार टॉक्सिन्स  को इंजेक्ट करने वाले भाग को छू लेता है। तो उसके बाद यह शिकार को पंगु बना देता है।‌‌‌ऐसा अनुमान है कि बिना खून वाले जीव की ऐनिमोन की 1000 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं। कुछ प्रजातियां ठंडे पानी के अंदर रहती हैं तों कुछ गर्म पानी के अंदर रहती है।

Corals

फ्लोरिडा कीज़ में रीफ़्स, कम से कम 45 प्रजातियाँ स्टोनी कोरल पाए जाते हैं ।कोरल  एक ऐसा जीव है जिसमे खून नहीं होता है। कोरल जेलीफ़िश और एनीमोन से संबंधित प्राचीन जानवर हैं। एक व्यक्तिगत कोरल को एक पॉलीप के रूप में जाना जाता है। ‌‌‌यह अक्सर एक छोटा जीव होते हैं। जिनमे पेट के उपर एक तना बना हुआ होता है। यह रात के अंदर अपने तंबू का विस्तार करते हैं। और छोटे जीवों का शिकार भी करते हैं। हजारों पॉलीप्स एक साथ रहते हैं और कई सारी कोलोनियों का निर्माण करते हैं।

पॉलीप इसके नीचे एक कैल्शियम कार्बोनेट एक्सोस्केलेटन का उत्सर्जन करता है और लंबे समय तक, कई कोरल कॉलोनियों के कंकाल एक कोरल रीफ की संरचना बनाते हैं। मछली, अकशेरूकीय, शैवाल और सूक्ष्मजीव – इस चट्टान पर और इसके आसपास अपने घर भी बना लेते हैं।

 रीफ केवल उथले क्षेत्रों में पाए जाते हैं जो सूर्य के प्रकाश के कारण प्रवाल होते हैं।सूक्ष्म शैवाल प्रवाल के अंदर रहते हैं।उन्हें भोजन प्रदान करते हैं और तेजी से बढ़ने में मदद करते हैं। कई मायनों में, रीफ-बिल्डिंग कोरल ऐसे जानवर हैं जो पौधों की तरह काम करते हैं। ‌‌‌एक स्थान पर रहते हैं और सूर्य के प्रकाश से अपनी उर्जा भी पाते हैं। उपोष्णकटिबंधीय महासागरों के अंदर यह पाये जाते हैं। यह 150 फिट से कम गहराई वाली जगहों के अंदर पाये जाते हैं।

Flatworms

Flatworms भी एक ऐसा जीव है। जिसमे खून नहीं होता है। यह बिना खून वाला जीव है।फ्लैटवर्म पानी की सतह पर रहते हैं या फिर यह पानी के नीचे रहते हैं। इनका शरीर एक बोरी की तरह होता है। और अपने मुंह से यह भोजन अंदर ले जाते हैं। और उसी से बाहर निकालते हैं। इनके कोई गुदा नहीं है। ‌‌‌इनकी सबसे खास बात तो यह है कि यदि इनका कोई टुकड़ा टूट जाता है तो यह अलग कीड़ा बन जाता है। यह लैंगिक रूप अलग अलग होकर प्रजनन करते हैं।फ्लैटवर्म की 20,000 से अधिक प्रजातियां हैं । इसकी कुछ प्रजातियां स्वतंत्र रूप से रहती हैं तो कुछ परजीवी होती हैं। फ्लैटवर्म  के पास दो नर्व कोर्ड होते हैं और दो आंखे भी होती हैं जोकि इनको प्रकाश और अन्य खतरे की सूचना देती हैं। इसके अलावा इनमे दिमाग भी होता है।फ्लैटवर्म ऑक्सीजन में सांस लेते हैं।

फ्लैटवर्म  काफी मजेदार बिना खून वाला जीव है। यह मादा और नर दोनों के साथ पैदा हुए हैं। यह अकेला ही संभोग कर सकता है। और यह किसी दूसरे जीव के साथ भी काम कर सकता है। यह देखने के लिए की वह एक ही प्रजाति का है या नहीं ? ‌‌‌इसके अलावा वे टूटे हुए टुकड़ों से भी एक नया कीड़ा पैदा कर सकते हैं।

Mollusks

By Kirt L. Onthank, CC BY-SA 3.0, Link

Mollusks भी एक ऐसा जीव है जिसके अंदर खून नहीं होता है ।यह बिना खून वाला जीव है।मोनोप्लाकोफ़ोरान गहरे समुद्र के मोलस्क हैं जो टोपी जैसे गोले  लिए हुए होते हैं।इन प्रजातियों को पहले तो लुप्त माना जाता था। लेकिन सन 1952  के अंदर एक वैज्ञानिक ने इन जीवों की कुछ प्रजातियों की खोज की थी। ‌‌‌अधिकतर मोलस्क  शिकारी होते हैं। यह पानी के अंदर रहते हैं और छोटी मछलियों और अन्य छोटे जीवों का शिकार करते हैं।नॉटिलस पोम्पिलियस सेफलोपॉड मोलस्क दुनिया की सबसे पुरानी प्रजाति है। ‌‌‌वैसे तो मोलस्क का मतलब होता है नरम । इनके पास कंकाल या एक्सोस्केलेटन  नहीं होता है। केवल कैल्शियम  से बने गोले होते हैं। स्लग और घोंघे मोलस्क इसी के अंदर आते हैं।क्लैम, मसल्स, ऑक्टोपस और स्क्विड मोलस्क इसी के अंदर आते हैं।

Sponges

By Nhobgood (talk) Nick Hobgood – Own work, CC BY-SA 3.0, Link

स्पॉन्ज भी एक ऐसा जीव है जो बिना खून के होता है। काफी साल पहले जीवविज्ञानी  यह सोचते थे कि स्पॉन्ज एक पौध है। लेकिन बाद मे वैज्ञानिकों ने पहचाना की यह एक पौधा नहीं है। वरन एक एक जीव है। ध्रुवों से उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों के साथ साथ दुनिया भर के अंदर स्पंज पाये जाते हैं। यह गहरे उथले और ताजे पानी के अंदर रहते हैं। प्रारंभिक जीवाश्म रिकॉर्ड बताते हैं कि लगभग 600 मिलियन साल पहले पृथ्वी पर स्पंज का निवास था। मतलब जब इंसान और धरती पर कई सारे जीव नहीं थे तब स्पंज थे । ‌‌‌गहरे समुद्र के अंदर स्पंज 200 साल से अधिक पुराने हो सकते हैं। स्पंज एक मास्टर फिल्टर हैं। जो बास्केटबॉल  आकार का स्पंज पूरे दिन मे एक बड़े वाटर  पुल को फिल्टर कर सकता है। सी स्पॉन्ज चलते नहीं हैं। लेकिन अपना भोजन प्राप्त करने के लिए पानी को फिल्टर करते हैं। दुनिया भर के अंदर स्पंज की 5000 से अधिक प्रजातियां पाई जाती है।  सबसे छोटा समुद्री स्पंज 1 इंच लंबा हो सकता है।स्पंज में सिर, आंख, दिमाग, हाथ, पैर, कान, मांसपेशियां, नसें जैसे अंग नहीं होते हैं।

ऐसा कौन सा जीव है जिसमें खून नहीं होता लेख आपको कैसा लगा नीचे कमेंट करके बताएं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *