hindi मुहावरे part 2

थैली खोलना: जी खोल कर खर्च करना
थू-थू करना : घृणा प्रकट करना
दूध का दूध पानी का पानी करना : ठीक न्याय करना
दौड़ धूप करना : खूब प्रयत्न करना
दाँत खट्टे करना : परेशान करना/हरा देना
दाने-दाने को तरसना : बहुत गरीब होना
दाल में काला होना : छल/कपट होना/संदेहपूर्ण होना
दीया लेकर ढ़ूँढ़ना : अच्छी तरह खोजना
दुम दबाकर भागना: डर कर भाग जाना
दाल गलना : काम बनना
दिन में तारे दिखाई देना : घबरा जाना
दाँतों तले उँगली दबाना: आश्चर्य चकित होना
दो-दो हाथ करना: द्वन्द्व युद्ध/अन्तिम निर्णय हेतु तैयार होना
दो टूक जवाब देना : स्पष्ट कहना
दिन-रात एक करना : खूब परिश्रम करना
द्रोपदी का चीर होना : अनन्त/अन्तहीन
दिमाग आसमान पर चढ़ना : अत्यधिक गर्व होना
दाँत काटी रोटी होना : अत्यधिक स्नेह होना
दोनों हाथों में लड्डू होना : सर्वत्र लाभ ही लाभ होना

दूसरे के कंधे पर रखकर बंदूक चलाना: दूसरे को माध्यम बनाकर काम करना
दिल छोटा करना : दुःखी होना, निराश होना
दिन फिरना : अच्छा समय आना
धूप में बाल सुखाना : अनुभव हीन होना
धाक जमाना : रोबजमाना/प्रभाव जमाना
धूल में मिलाना : नष्ट करना
धरती पर पाँव न पड़ना: फूला न समाना अभिमानी होना
धूल फाँकना : दर-दर की ठोकरें खाना
धज्जियाँ उड़ाना : दुर्गति करना, कड़ा विरोध करना
बरस पड़ना : बहुत क्रोधित होकर उल्टी-सीधी सुनाना
नमक मिर्च लगाना : बात को आकर्षक बनाकर कहना
नानी याद आना : बड़ी कठिनाई में पड़ना घबरा जाना
निन्यानवे के फेर में पड़ना : धन इकट्ठा करने की चिन्ता में रहना
नाम कमाना : प्रसिद्ध होना
नौ दो ग्यारह होना: भाग जाना
नीला-पीला होना : क्रोध करना
नाक रगड़ना : दीनता प्रदर्शित करना, खुशामद करना
नाक में दम करना: बहुत परेशान करना
नाक भौं सिकोड़ना: घृणा करना
नाकों चने चबाना : खूब परेशान करना
नाक कटना : बदनामी होना
नुक्ताचीनी करना : दोष निकालना
नाक रख लेना : इज्जत बचाना
नाम निशान तक न बचना : पूर्ण रूप से नष्ट हो जाना
नचा देना : बहुत परेशान कर देना
नींव की ईंट होना: प्रमुख आधार होना
पानी मरना : किसी की तुलना में निकृष्ट ठहरना
पैर पटकना : खूब कोशिश करना
पगड़ी उछालना : बेइज्जत करना
पेट पालना : जीवन निर्वाह करना
पहाड़ टूट पड़ना : बहुत मुसीबत आना
पानी पीकर जात पूछना: काम करके फिर जानकारी लेना
पेट में दाढ़ी होना : लड़कपन में बहुत चतुर होना/घाघ होना
पैरों तले से जमीन खिसकना : बहुतघबरा जाना, अचानक परेशानी आना
पापड़ बेलना : कड़ी मेहनत करना, विषम परिस्थितियों से गुजरना
प्राण हथेली पर रखना : जान देनेके लिये तैयार रहना
पिंड छुड़ाना : पीछा छुड़ाना या बचना
पानी पानी होना : लज्जित होना
पेट में चूहे कूदना : तेज भूख लगना
पाँचों उँगलियाँ घी में होना : सब ओर से लाभ होना
पीठ ठोकना : शाबासी देना, हिम्मत बँधाना
फूँक फूँक कर कदम रखना : सावधानी पूर्वक कार्य करना
फूटी आँखों न सुहाना : बिल्कुल पसन्द न होना
फूला न समाना : अत्यधिक खुश होना
पट्टी पढ़ाना : बहका देना, उल्टी राय देना
पेट काटना : बहुत कंजूसी करना
पानीदार होना: इज्जतदार होना
पाँवों में बेड़ी पड़ जाना: बंधन में बंध जाना
बाँह पकड़ना : सहायता करना/सहारा देना
बीड़ा उठाना : कठिन कार्य करने का उत्तरदायित्व लेना
बाल की खाल निकालना : नुक्ताचीनी करना
बात बनाना : बहाना करना
बाँसों उछलना : अत्यधिक प्रसन्न होना
बाल बाँका न होना: कुछ भी नुकसान न होना
बाज न आना: आदत न छोड़ना
बगलें झाँकना: इधर-उधर देखना/निरुत्तर होना/जवाब न दे सकना।
बायें हाथ का खेलहोना : सरल कार्य
बल्लियों उछलना : अत्यधिक प्रसन्न होना
बछिया का ताऊ होना : महामूर्ख
भौंह चढ़ाना : क्रुद्धहोना
भूत सवार होना : हठ पकड़ना/काम करने की धुन लगना
भीगी बिल्ली बनना: डरपोक होना
भाड़ झोंकना : तुच्छ कार्य करना/व्यर्थ समय गुजारना
भरी थाली को लात मारना : जीविकोपार्जन के साधन ठुकरा देना
भैंस के आगे बीन बजाना : मूर्ख के समक्ष बुद्धिमानी की बातें करना व्यर्थ
बाल-बाल बचना : कुछ भी हानि न होना
बाछें खिल जाना : आश्चर्य जनक हर्ष
मन खट्टा होना : मन फिर जाना/जी उचाट होना
मन के लड्डू खाना : कोरी कल्पनाएँ करना
मुँह में पानी भर आना : इच्छा होना/जी ललचाना
मुँह में लगाम न लगाना: अनियंत्रित बातें करना
मुट्ठी गर्म करना : रिश्वत देना, लेना
मुँह की खाना : हार जाना/हार मानना
मक्खियाँ मारना : बेकार भटकना/बैठना
मक्खी चूस होना : बहुत कंजूस होना
मुँह पर हवाइयाँ उड़ना : चेहरा फक पड़ जाना
मन मसोस कर रह जाना : इच्छा को रोकना
मुँह काला करना : कलंकित होना
मुँह की खाना : बातों में हारना/अपमानित होना
मुँह तोड़ जवाब देना : कठोर शब्दों में कहना
मन मारना : उदास होना/इच्छाओंपर नियंत्रण

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *