हाथी के दांत की कीमत जानकर आप हैरान रह जाएंगे

हाथी के दांत की कीमत के बारे मे हम इस लेख मे बात करेंगे। दोस्तों हाथी एक बुद्विमान प्राणी होता है। और अधिकतर हाथी अफ्रिका के अंदर पाय जाते हैं। अपने करीबी की मौत पर हाथियों को उदास और रोते हुए भी देखा जा सकता है। हाथी इंसानों के लिए भी काफी वफादार होते हैं। लेकिन दुर्भाग्य की बात तो यह है कि हाथियों को उनके कीमती दांत के लिए ‌‌‌मारा जाता रहा है। इस वजह से इनकी संख्या तेजी से घट रही है। इस मामले के अंदर चीन सबसे आगे है। चीन के अंदर हाथी दांत से बनी चीजों को उपहार के अंदर देने का चलन है। इस वजह से यहां पर इनका शिकार होता है।‌‌‌हालांकि भारत जैसे देश के अंदर हाथी को मारना और उसके दांत को बेचना कानूनी रूप से अपराध है।

‌‌‌एक वक्त ऐसा भी आया था । जब अफ्रिका के अंदर भी हाथियों की आबादी तेजी से घट गई थी। लेकिन सन 1989 के बाद हाथियों के शिकार पर प्रतिबंध लगाने के बाद इनकी आबादी के अंदर कुछ सुधार हुआ था।‌‌‌अधिकतर वन्य जीव संरक्षण संगठनों का मानना है कि अफ्रिका से 75 प्रतिशत हाथी दांत चीन के अंदर ही लाये जाते हैं। अफ्रिका के अंदर रहने वाले चीनी लोग हाथी दांतों को खरीद लेते हैं। और उसके बाद मोटे दामों पर अपने देश के अंदर ले जाकर बेच देते हैं।बोत्सवाना के अंदर तो अब केवल 1 लाख हाथी ही बचे हुए हैं। इतना ही नहीं चीन के अंदर कई ऐसी दुकाने भी हैं जहां पर खुलेआम हाथी दांत की बिक्री होती है। जिस पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

‌‌‌हालांकि 1 जनवरी 2018 के बाद अब चीन भी दूसरे देशों की तरह हाथी दांत के व्यापार पर प्रतिबंध लगा चुका है।हाथियों को बचाने के मामले मे यह काफी बड़ा कदम है। एक सर्वेक्षण की माने तो अकेले चीन की वजह से हर साल 30 हजार हाथियों का शिकार किया जाता है।‌‌‌एक वेबसाइट के अनुसार चीन के अंदर इसके प्रतिबंध की वजह से इसकी मांग के अंदर 65 प्रतिशत से अधिक गिरावट दर्ज की जा चुकी है। यह खबर हाथियों के लिए काफी अच्छी है।

‌‌‌इस कानून के लागू होने के बाद जिन लोगों के पास इस काम के लिए लाइसेंस थे उनको रद किया जा चुका है। और हाथी दांत के आभूषण वैगरह बनाने वाली दुकानों और कारखानों को भी बंद किया जा चुका है। अब हाथी दांत की कीमत भी तेजी से गिर रही हैं।‌‌‌क्योंकि इसकी मांग कम हो रही है। चीन के अंदर हाथी दांत के व्यापार को रोकने के लिए अभियान भी चलाया गया था।

‌‌‌हाथी दांत की कीमत इंडिया मे Elephant teeth price in India

‌‌11 अगस्त 2017 को पुलिस ने दो तस्करों को गिरफतार किया था। उनमे से एक झारखंड़ का रहने वाला था और दूसरा वारणासी का रहने वाला था। दोनों के पास 8 किला के हाथी के दांत मिले थे। पुलिस के अनुसार इन हाथी के दांतों की कीमत 25 लाख रूपये थी तो आप अनुमान  लगा सकते हैं कि हाथी के दांत कितने महंगे होते हैं।‌‌‌इसके अलावा सन 2016 के अंदर बुम्बई के अंदर 100 साल पुराना हाथी का दांत पकड़ा गया था। जिसकी कीमत 2 करोड़ रूपये बताई जा रही है। जिसको बेचने वाले 20 दिन से चक्कर लगा रहे थे ।

‌‌‌हाथी दांत की कीमत अमेरिका मे Elephant teeth price in US

सेव द एलीफेंट की एक रिपोर्ट के अनुसार सन 2014 के अंदर एक हाथी जोकि किलो ग्राम के अंदर बिकता है कि कीमत $ 2,100 पर किलोग्राम था। और यह पीछले महिने 750 $ पर किलोग्राम थी।‌‌‌आपको बता दें कि नानजिंग के एक स्टोर में, शोधकर्ताओं ने हाथी दांत से बनी “38-लेयर वाली मैजिक बॉल” को $ 248,810 में बेचा गया था।‌‌‌एक रिपोर्ट के अनुसार एक हाथी दांत की कीमत की वजह से उसका सबसे ज्यादा शिकार किया जाता है।‌‌‌इसके अलावा हाथी का मांस के लिए भी शिकार किया जाता है। लेकिन यह उतना नहीं किया जाता है।

‌‌‌ब्लैक मार्केट और हाथी दांत की कीमत Black market and elephant teeth price

वैसे देखा जाए तो अधिकतर देशों के अंदर हाथी दांत के व्यापार पर प्रतिबंध लगा दिया है। लेकिन अभी भी हाथी दांत का व्यापार होता है। काला बाजार का सबसे बड़ा केंद्र ऐशिया ही है। पीछले 8 वर्षों की अगर हम बात करें तो100 $ प्रतिकिलोग्राम से बढ़कर 2000 $ प्रतिकिलो ग्राम हो चुकी है।इस वजह से कई विशेषज्ञों ने तो यहां तक कह दिया है कि 2020 तक हाथी खत्म हो सकते हैं।वाशिंगटन विश्वविद्यालय में सेंटर फॉर कंजर्वेशन बायोलॉजी के निदेशक सैमुअल के वासर ने कहा है कि जल्दी ही इसको नहीं रोका गया तो अफ्रिका के अंदर पूरे ‌‌‌हाथियों का सफाया हो जाएगा और इस वजह से पर्यावरण पर भी बहुत बुरा असर पड़ेगा।‌‌‌अकेलें  केन्या में अवैध व्यापार पीछले तीन वर्षों की तुलना मे सात गुना बढ़ चुका था।इस वजह से 271 हाथियों की हत्या भी करदी गई थी।सावो नेशनल पार्क क्षेत्र में 1960 के दशक में 50,000 हाथी थे; आज, यह 11,000 है। और केन्या के हवाई अड्डे पर 10 चीनी नागरिकों को गिरफतार किया गया था। जो हाथी दांत ‌‌‌को अपने देश के अंदर ले जाने की कोशिश कर रहे थे ।

केन्याई पार्क रेंजरों की मौत भी गोलाबारी के अंदर होती रही है।क्रिसमस के दिन एक गोलीबारी में एक रेंजर की मौत हो गई, और फरवरी में गोलीबारी में एक शिकारी की भी मौत हो गई थी। दुर्भाग्य की बात है कि वे जनजातियां जो कभी हाथी की रक्षा करने के लिए जानी जाती थी।‌‌‌अब वे ही हाथियों का शिकार कर रही हैं। इसकी बड़ी वजह यह है कि यह आदिवासी लोग यह सोचते हैं कि इस तरीके से वे जल्दी ही अमीर बन सकते हैं। और दांत को बेचकर अच्छा पैसा आसानी से कमा सकते हैं।

‌‌‌हाथी दांत की कीमत और उससे जुड़े कुछ फेक्टस

हाथी की उम्र लगभग 70 साल के आस पास होती है। और हाथी के दांत की लंबाई चौड़ाई और वजन अलग अलग हो सकता है। अब तक सबसे बड़ा हाथी का दांत जिसकी लंबाई 138 इंच की थी और वजन 140 किलो ग्राम का था। और यदि इसकी कीमत की बात करें तो भारतिय मार्केट के अंदर 140‌‌‌किलोग्राम के हाथी का दांत लगभग 40 करोड़ रूपये का होता है।

‌‌‌हाथी अपने दांतों का प्रयोग वजन को उठाने मे भी करता है। इसके अलावा वह दांतों का प्रयोग दूसरे जानवर से रक्षा करने के लिए भी प्रयोग करते हैं। एक हाथी का दांत बच्चे के जन्म के साथ ही मौजूद होते हैं जोकि बाद मे बदल जाते हैं।

‌‌‌यदि हम हाथी दांत की कीमत की बात करें तो हाथी दांत के बहुत से यूज की वजह से इसकी कीमत बहुत ज्यादा रहती है। अधिकतर लोग हाथी दांत के गहने पहनना पसंद करते हैं। यह कुछ अमीर लोगों के शौक के अंदर शामिल है। इस वजह से भी हाथी दांत की कीमत काफी ज्यादा रहती है। इसके बने गहनों को शान से पहना जाता है। ‌‌‌इसके अलावा प्राचीन काल के अंदर लोग अपने पास हाथी दांत से बने कंगे वैगरह रखना भी पसंद करते थे । एक तरह से यह शौक भी था। इस वजह से भी बहुत से हाथियों का शिकार किया जाता था। इसके अलावा हाथी दांत से दवाइयां भी बनाई  जाती हैं।

1930 के दशक से पहले जो पियानों आते थे उनके अंदर कुंजियां हाथी दांत से भी बनाई जाती थी। इसकी वजह यह थी कि लंबे समय तक पियानों का इस्तेमाल करने पर यह पसीने को सोखने मे सक्षम होता था। हालांकि अब यह बंद कर दिया गया है।

‌‌‌एक तरह से यह कहा जा सकता है कि हाथी दांत की कीमत आज जो मार्केट के अंदर है। वह हमारी झूंठी शानौशोकत की वजह से है। यदि हम किसी जीव की हत्या करके उसके दांत को गले मे धारण करके खुश नसीब समझते हैं तो हमसे बुरा कोई नहीं होगा । दूसरे जीव की हत्या और खुद का भाग्य जगाने के लिए हाथी दांत धारण करना ‌‌‌हमारे इंसान होने पर प्रश्न चिन्ह लगाता है।

हाथी के दांत की कीमत  पर लिखा लेख आपको कैसा लगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *