World of black magic पुतला बनाने का तरीका बेसिक जानकारी काला जादु की दुनिया

दोस्तों कई बार आपने सुना होगा कि अमुख व्यक्ति के घर मे एक पुतला गढ़ा हुआ मिला है। पुतले गढ़े होने की वजह से वह व्यक्ति मरने की कगार पर पहुंच चुका था । किसी तांत्रिक ने आकर पुतले को जमीन से निकाला था ।

‌‌‌इस लेख के अंदर हम आपको पुतला बनाने की कुछ बेसिक जानकारी देने जा रहे हैं। बेसिक इसलिए क्योंकि हमे भी इस बारे मे अधिक पता नहीं है। जितनी जानकारी हमको है हम आपको बता रहे हैं। हो सकता है इसमे कुछ गलतियां हो । यदि आपको कुछ गलती नजर आए तो हमे कमेंट करके अवश्य बताएं ।

 

‌‌‌कैसे बनाते हैं तांत्रिक लोग पुतला How to make tantric people mannequins black magic

दोस्तों तांत्रिक लोग अपने दुश्मन को पस्त करने के लिए कई सारी विधियों का प्रयोग करते हैं। जिनमे से पुतला बनाने की विधि भी एक है। पुतला बनाना आम इंसान के बस की बात नहीं है। इसको केवल सिद्वि प्राप्त इंसान या तांत्रिक ही कर सकते हैं।

‌‌‌सबसे पहले तांत्रिक लोग अमावस्या की उस रात का इंतजार करते हैं जिस रात किसी व्यक्ति की मौत हुई हो । उसके बाद तांत्रिक आधी रात को एक काली हांडी लेकर श्मसान घाट के अंदर जाता है। हांडी के अंदर कुछ उड़द के दाने लेकर पकाता है। उन उड़द के दाने मे से आधे तो मुर्दे को खिलाता है। उससे आधे वापस ‌‌‌अपने घर ले आता है।‌‌‌यह एक प्रकार की साधना होती है। जिसको पूरा करना आवश्यक होता है।

‌‌‌दुश्मन के बाल black magic

पूतला बनाने से पहले दुश्मन के गुप्तांग के बाल या सर के बाल की आवश्यकता होती है। यह बाल पूतले के अंदर लगाए जाते हैं। इन बालों को अपने दूश्मन के बालों से काटा जाना चाहिए । वह सावधानी पूर्वक ताकि इसमे कोई नुकसान होने की संभावना ना हो ।

‌‌‌आटे का पुतला बनाना

उसके बाद तांत्रिक आटे का पूतला बनाते हैं। उसका आकर एक पूतले जैसा होता है। और उसके हाथ पैर सब बनाए जाते हैं। आटे का पूतला तैयार हो जाने के बाद तांत्रिक अपने दूश्मन को जहां जहां पर दर्द देना चाहता है। वहां वहां पर उसके अंदर कीले चूभो देता है।

पुतला का समय और उसे गाड़देना

पूतला बनाने के बाद उसके अंदर समय ढाला जाता है। जैसे एक साल या 3 साल या फिर कुछ पहर का उतने समय तक व्यक्ति तड़पता है। उसके बाद उसकी मौत हो जाती है। यदि कोई तांत्रिक पूतले के अंदर 3 साल का समय डालता है तो व्यक्ति 3 साल तक तड़पता है।

‌‌‌क्या ‌‌‌पुतले का असर अवश्य होता है ?

दोस्तों पूतले का असर होता है। ऐसा हम लोग प्रत्यक्ष देख चुके हैं। हमारे पास एक बुढ़ी औरत ने हमको पहले ही बता दिया था कि किसी ने उसका पूतला करके गाड़ दिया है। दिन के 12 बजे और इतनी तारिख को उसकी मौत होगी । जोकि सच निकली बात थी ।

‌‌‌समय बितने के साथ पुतला और जमीन मे धंसता है

कुछ तांत्रिक लोगों का मानना है कि गाड़ा हुआ पूतला समय बितने के साथ ही जमीन के अंदर तेजी से घंसता चला जाता है। मतलब वह और अधिक गहराई के अंदर चला जाता है।

2 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *