Category: ‌‌‌धर्म और त्यौहार

मिलावट वाली मीठाई खानें से हो सकती हैं यह प्रोब्लमस

‌‌‌आजकल मीलावट का चर्चासा भारत के अंदर काफी बढ गया है। और भारत सरकार सिर्फ मौन बैठी है। और सरकार के कर्मचारी मजे से सरकारी नौकरी का मजा ले रहे हैं। उनको ना मिलावट से मतलब है ना किसी और से । मतलब तो अपनी मोटी तनख्वाह से । ‌‌‌विभिन्न त्यौहारों मे दुकानदार ज्यादा मुनाफा

रक्षाबंधन का इतिहास और इसका महत्व

क्ष्रावण मास के पूर्णीमा के दिन यह पर्व मनाया जाता है। जिसका अपना महत्व है। यह पर्व भाई बहनों का पर्व है। जिसमे बहन अपने भाई को राखी बांदकर मिठाई खिलाती है। और बदले मे भाई भी उसे कुछ उपहार देता है। ‌‌‌और उसकी रक्षा का वचन देता है। कहा जाता है कि रक्षाबंधन भाई

कर्ण से जुड़े कुछ रोचक तथ्य जानिए

1.]  कर्ण की माता कुंति और पिता सूर्य थे । उनका पालन एक रथ चलाने वाले ने किया था । इसी वजह से वे सूत पुत्र कहलाए । और उन्हें वो सम्मान नहीं मिला जिनके वे अधिकारी थे। ‌‌‌[2.]  द्रोपदी कर्ण को काफी पसंद करती थी। और कर्ण भी द्रोपदी को काफी पसंद करते थे

क्यों कहा जाता है कर्ण को महा दानवीर

दोस्तों महाभारत के अंदर कर्ण के दानवीर होने के अनके किस्से मिलते हैं।और भगवान क्रष्ण भी इस बात को मानते थे कि कर्ण दानवीर है। और वे इस संबंध मे अर्जुन को कई बार लताड़ लगा चुके थे किंतु अर्जुन यह मानने को कतई तैयार नहीं थे कि कर्ण महा दानवीर है। ‌‌‌जब महाभारत के युद्व मे कर्ण मौत और जिंदगी के बीच मे पड़े थे ।तब अर्जुन ने कहा था कि भगवान हमने आपके दानवीर कर्ण को मार दिया है। वह जिंदगी और मौत के बीच लटका है। अर्जुन की इन बातों के अंदर अहंकार भरा हुआ था । तब