मोबाइल फोन का आविष्कार कैसे हुआ

मोबाइल फोन का आविष्कार बहुत पहले ही हो चुका था । आज जो हम मोबाइल का रूप देख रहे हैं वह पुरानी तकनीक को विकसित करके बनाया गया है। मोबाइल फोन को सैलफोन भी कहा जाता है।‌‌‌आज से काफी साल पहले जो मोबाइल फोन आते थे । उनसे हम सिर्फ बाते ही कर सकते थे । उनके अंदर mp3 player ,viedo camara ,net, image जैसी सुविधा नहीं आती थी । फोन भी ऐसे आते थे कि एक बार मे केवल एक व्यक्ति की बात कर सकता था । और दूसरे को उसकी बातें सुननी होती थी । ‌‌‌लेकिन तकनीक के विकास के साथ साथ ही अब मोबाइल से दोनों व्यक्ति एक ही समय मे बोल सकते हैं बात कर सकते हैं। यहां तक कि विडियो कॉल भी कर सकते हैं।

मोबाइल फोन का आविष्कार कैसे हुआ

‌‌‌mobile फोन के आविष्कारों का इतिहास

  • दुनिया के पहिला मोबाइल फोन, जॉन ऍफ़॰ मिटचेल द्वारा मार्टिन कूपर द्वारा मोटोरोला कंपनी ने 1973 में प्रदर्शित एह फोन था जिसका वजन लगभग 2 किलो था
  • 1908 के अंदर नाथन बी स्टब्ब्लफील्ड मूर्रे,जो अमेरिका के रहने वाले थे ।एक वायरलेस टेलिफोन का पेटेंट करवाया था ।
  • 1947 के अंदर लेबोरेटरी के इंजिनियरों ने टेलिफोन के लिए एक बेस सैल का आविष्कार किया था । जिसको बाद मे और अधिक विकसित किया गया था ।
  • 1950 द्वितिय विश्व युद्व के दौरान रेडियो टेलीफोनी लिंक ‌‌‌का प्रयोग सैना के द्वारा किया गया था । जिसका प्रयोग सैना संदेश भेजने के लिए करती थी ।
  • 10th June 1969 के अंदर जॉर्ज स्वेइगर्ट ने हाथ से प्रयोग किये जाने वाले मोबाइल फोन का आविष्कार किया था । जिसको उसने अमरीका के अंदर पेटेंट करवाया था ।
  • October 17, 1973 के अंदर मार्टिन कपूर को पहला व्यवहारिक मोबाइल फोन का आविष्कारक माना जाता है।रेडियो टेलीफोन प्रणाली” में अमेरिका के पेटेंट कार्यालय के द्वारा कूपर को आविष्कारक घोषित किया गया
  • 3rd April 1973 को कपूर ने अपने मोबाइल फोन का प्रयोग करके डॉ॰ योएल एस. एंगेल को पहली कॉल की थी ।
  • 1979 के अंदर जापान के अंदर पहला वाणिज्यक सैलूलर नेटवर्क शूरू किया गया। इसको 1 g कहा गया ।नॉर्डिक मोबाइल टेलीफोन (NMT) सबसे पहले फिलैंड, स्वीडन डैनमार्क के अंदर शूरू हुई थी ।
  • 1983 मोटोरोला ड्य्नाTAC, संयुक्त राज्य अमेरिका में FCC के द्वारा अनुमोदित पहला मोबाइल फोन था । अमेरिका के अंदर उस समय इस प्रकार के मोबाइल बनाए गए जिनके उपर एंटिना होता था । जिसका प्रयोग सिग्नल रिसिवर के तौर पर किया जाता था । इस प्रकार के मोबाइल आज भी आप चित्रों के अंदर देख सकते हैं।
  • 1991 फिनलैंड के अंदर 2G की शूरूआत हुई थी ।1993 के अंदर मोबाइल पर डेटा सेवाओं की शूरूआत हुई । यह शूरूआत एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को संदेस भेजकर की गई।1999 के अंदरफिलीपींस में पहली रिंग टोन मोबाइल के लिए बेची गई थी ।
  • i-मोड़ मोबाइल पर पहली इंटरनेट सेवा थी जिसको जापान के अंदर शूरू किया गया था ।
  • ‌‌‌2001 के अंदर 3G की शूरूआत जापान के अंदर NTT डोकोमो के द्वारा की गई थी । पहले मोबाइल काफी बड़े थे । जिनको जेब के अंदर नहीं ले जाया जा सकता था । लेकिन बाद मे बैटरी वैगर के विकास के साथ ही मोबाइल फोन छोटे होते चले गए ।

‌‌‌mobile phone आविष्कार से जुड़े दिलचस्प तथ्य

  • ओ2 नामक सेलनेट ने 1985 के अंदर अपनी सेवा शूरू की थी और एक साल के अंदर ही अपने डेढ करोड़ ग्राहक जोड़े जो वोडाफोन 9 साल के अंदर जोड़ पाया ।

 

  • 1985 के अंदर फ्रॉयडल्म हिलब्रांड नामक रिसर्चर ने सबसे पहले 160 करेक्टर के अंदर मैसेज लिखे थे । जबकि करेक्टर लिमिट 128 थी ।
  • 1865 तक नोकिया कागज और ‌‌‌कुछ प्लास्टिक की चीजें बनाती थी । नोकिया ने अपना पहला मोबाइल सन 1980 के अंदर लॉंच किया था ।
  • मोबाइल से मैसेज भेजनें मे फिलफिंस सबसे आगे है। यहां पर हर साल 1.4 बिलियन मैसेज भेजे जाते हैं।
  • सीमेंस ने एसएल 45 दुनिया का वह पहला फोन था जिसके अंदर गाने बजते थे । उसके अंदर आप मौमोरी कार्ड भी डाल ‌‌‌सकते थे ।
  • सोनिम एक्सपी 3300 दुनिया का वह पहला स्मार्ट फोन था ।जो काफी ज्यादा मजबूत था । इसको उंचाई से फेंकने के बाद और पानी मे डूबोने के बाद भी कुछ नहीं हुआ ।
  • नोकिया का 1100 फोन दुनिया का सबसे ज्यादा सैल होने वाला फोन था । जिसको कम्पनी ने 2003 के अंदर बनाया था । इसकी 250 मिलियन यूनिट बिकी थी ।
  • ‌‌‌स्मार्ट फोन का प्रयोग करने वाले लोग प्रतिदिन 10 से 8 मिनट फोन काल्स पर खर्च करते हैं।
  • जापान के अंदर लगभग 90% लोग वाटरप्रुफ फोन का इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि यहां पर लोग नहाते समय भी अपना फोन इस्तेमाल करते हैं।
  • दुनिया के अंदर 70% फोन चीन के अंदर बनते हैं।
  • ‌‌‌सन 2013 के अंदर अमेरिका मे 21 प्रतिशत एक्सीडेंट केवल मोबाइल फोन के उपयोग की वजह से हुए थे ।

‌‌‌मोबाइल फोन मे हैलो शब्द का प्रयोग क्यों करते हैं

मोबाइल फोन का आविष्कार कैसे हुआदोस्तों आप और हम लोग जब भी किसी को फोन करते हैं या किसी का फोन आता है तो उसे उठाकर हैलो शब्द क्यों बोलते हैं ? क्या आपको पता है? आपको बतादें कि ग्राहम बेल ने टेलिफोन का आविष्कार किया था । वे जब भी टेलिफोन से अपनी ग्रलफ्रेंड से बात करते ‌‌‌थे । हैलो शब्द बोलते थे । दरसअल उनी गर्लफ्रेंड का नाम हैलो था । बाद मे इसी शब्द का प्रयोग हर जगह पर होने लगा ।

Satellite mobile phone क्या होता है ?

दोस्तों सैटेलाइट फोन भी एक मोबाइल फोन की तरह ही होता है। लेकिन इसका प्रयोग काफी कम मात्रा के अंदर किया जाता है। Satellite फोन सीधा उपग्रह से कनेक्ट रहता है। और इसके अंदर सिग्नल मिलने की कोई समस्या नहीं होती है। इस फोन का प्रयोग खास कर ऐसी जगहों पर जहां टावर लगाना ‌‌‌संभव नहीं होता हो । इसके अलावा भारतिए सैना भी इसका प्रयोग करती है। बाढ़ आदि की स्थिति के अंदर सामान्य मोबाइल काम नहीं कर पाते हैं। लेकिन सैटेलाइट फोन काम करते हैं क्योंकि यह उपग्रह से कनेक्ट रहते हैं। जिनकी मदद से राहत सामग्री पहुंचाई जाती है।

‌‌‌वैसे सेटेलाइट फोन की सुविधा कोई भी ले सकता है। लेकिन इसका यूज आम फोन से महंगा है। और इसके लिए विशेष अनुमती लेनी होती है।

‌‌‌800 साल पुराना मोबाइल मिलने का दावा

आस्ट्रीया के अंदर खुदाई के दौरान 800 साल पुराना मोबाइल मिला है। इसका दावा पुरातत्वविदों ने किया था ।ऑस्ट्रिया के साल्जबर इलाके मे खुदाई के दौरान यह मोबाइल मिला था । उस मोबाइल पर भाषा भी उसी दौर की थी ।

 

‌‌‌उस पर लिखी भाषा मेसोपोटामिया सभ्यता की थी । हालांकि कुछ लोगों ने यह माना कि यह मजाक है। इस मोबाइल का आकार नोकिया 1100 के जैसा था । तो क्या मोबाइल का आविष्कार आज से कई हजार साल पहले हो चुका था ।

‌‌‌मोबाइल फोन का आविष्कार कब हुआ , मोबाइल फोन का आविष्कार किसने किया ,मोबाइल फोन का आविष्कारक , ‌‌‌800 साल पुराना मोबाइल आदि के बारे मे आप इस लेख के अंदर विस्तार से जान चुके हैं। यदि कोई समस्या है तो नीचे कमेंट करें ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *