बेटी की शादी के उपाय मंत्र और शादी के लिए युक्तियाँ

बेटी की जल्दी शादी करने के उपाय या पुत्री के विवाह के उपाय और जल्दी विवाह के लिए मंत्र पर विस्तार से चर्चा करेंगे ।

दोस्तों भारत के अंदर आज भी अधिकतर लोग शादी के लिए वोही पुरानी परम्परा का यूज करते हैं। आज भी लड़की के लिए वर उसके माता पिता ही तय करते हैं। और अधिकतर लड़कियां इस बात का प्रतिरोध भी नहीं करती हैं। उनका मानना होता है। कि उनके माता पिता हमेशा ही उनके ‌‌‌लिए सही ही करेंगे । वैसे उनका सोचना सही है। लेकिन बदलते समय के साथ माता पिता की परिभाषा और काम भी बदल गया है।शीघ्र विवाह के लिए उपाय

मैंने ऐसे बहुत से केस देखे हैं। जिनके अंदर लड़की के माता पिता अपनी लड़की को पैसों के बदले बेच देते हैं। या पैसे लेकर लड़की का विवाह हर किसी के साथ कर देते हैं। ऐसे ‌‌‌लोगों के लिए लड़की का विवाह कोई समस्या नहीं है। वरन लड़की का विवाह उन लोगों के लिए समस्या है जो अपनी लड़की को या बेटी को एक उचित योग्य पुरूष को सौंपना चाहते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर कई बार समस्या आ जाती है।

‌‌‌क्योंकि ऐसी स्थिति के अंदर लड़की के माता पिता उसके होने वाले पति के बारे मे और उसकी आर्थिक स्थिति के बारे मे बहुत अच्छे से देखते हैं। कई जगह पर लड़का पसंद नहीं आता है तो कई जगह पर घरबार पसंद नहीं आता है। और कई जगह पर जात पात मेल नहीं खाते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर सही वर मिलना काफी ‌‌‌कठिन हो जाता है।

बेटी के विवाह मे देरी के कारण

यदि पुत्री के विवाह के अंदर देरी हो रही है। तो इसके पीछे कई सारे कारण जिम्मेदार हो सकते हैं। बेटी के विवाह के उपाय को जानने से पहले हम आपको विवाह के अंदर देरी के कारणों के बारे मे थोड़ा विस्तार से बता देते हैं।

 

‌‌‌जाति पांति की समस्या

आमतौर पर हिंदू लोग विवाह के समय चार गौत टालते हैं। इस वजह से कई बार गौत टल नहीं पाती है।  और जहां पर टल पाती है वहां पर अच्छा लड़का नहीं मिल पाता है। मुस्लिम धर्म के अंदर यह गौत की समस्या नहीं होने की वजह से विवाह जल्दी हो जाते हैं। लेकिन हिंदू धर्म के अंदर ‌‌‌यह सब टालने की वजह से देरी होती है।

‌‌‌सीमित क्षेत्र मे दुल्हे कि तलास

बेटी के विवाह मै देरी होने की बड़ी वजह यह भी है कि हम केवल सीमित क्षेत्र के अंदर दुल्हे की तलास करते हैं। खास कर हम अपने सगे संबंधियों को बोल देते हैं कि यदि उनके ठिकाने के अंदर कोई लड़का या लड़की है तो विवाह की बात चलाएं । यदि वहां पर कोई लड़का नहीं ‌‌‌मिलता है तो उसके बाद हम ठप्प से हो जाते हैं । और सोचने लग जाते हैं कि विवाह नहीं हो रहा है। सगाई नहीं हो रही है। ‌‌‌ऐसी स्थिति के अंदर उचित लड़का कहां से मिलेगा । विवाह की बात को दूर रिश्तेदारों के अंदर फैलाना चाहिए। जिससे सबको पता चल सके और किसी की निगाह के अंदर कोई हो तो आसानी से पता लग जाए।

‌‌‌टांग खींचने की कोशिश

हमारे भारत देस के अंदर यह नीति आज भी वैसी है जैसी हजारों साल पहले थी । यहां पर लोग एक दूसरे से जलते बहुत हैं। यदि आप कुछ अधिक रूपये कमाने लगे हैं तो आपके पड़ोसी को यह रास नहीं आएगा । और वह सोचने लगेगाकि यह व्यक्ति इतना कैसे कमा रहा है । इसको नीचे गिराओ । ‌‌‌बस यही बात सगाई पर भी लागू होती है। जब आपकी बेटी या बेटे की सगाई होने लगती है तो आपके दुश्मन इसको रोकने की कोशिश करते हैं। और सामने वाले आपके संबंधियों के कान भर देते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर सगाई टूट जाती है। ऐसा लगभग हर जगह पर हो रहा है। यह स्थिति भी विवाह होने मे रूकावट है। यह कोई छोटी

‌‌‌मोटी रूकावट नहीं है। वरन यह एक बड़ी रूकावट है।

‌‌‌सगाई करने की पूरानी तकनीक

बहुत से लोग आज भी सगाई करने की पूरानी तकनीक का प्रयोग करते हैं। आजकल ऑनलाइन सिस्टम हो चुका है। लेकिन फिर भी लोग इस पर कम ही विश्वास करते हैं। शादी के लिए सही लड़का नहीं मिलने की यह भी एक बड़ी वजह है। पुरानी तकनीक की मदद से हम केवल एक सीमित क्षेत्र के अंदर वर वधु ‌‌‌की तलास कर सकते हैं। किंतु यदि आप अखबारों के अंदर विज्ञापन देंगे तो आप एक लम्बीं दूर तक वर वधु की तलास कर पाएंगे ।‌‌‌हालांकि आजकल विवाह समैलन वैगरह का आयोजन किया जाता है। जिसमे कम खर्चें के अंदर कई विवाह सम्पन्न करवाये जाते हैं।

‌‌‌उंची सोच

आजकल बदलते वातावरण के साथ लोगों की सोच के अंदर भी बदलाव आ गया है। आज हर माता पिता अपनी लड़की की शादी किसी ऐसे लड़के के साथ नहीं करना चाहते हैं जो बेरोजगार हो । वरन लड़के के माता पिता अच्छे पैसे वाले और उंचे खानदान के लोगों से अपनी लड़की की शादी करना चाहते हैं।‌‌‌और ऐसे लोग बहुत कम हैं। इस वजह से लड़की के माता पिता लड़का सर्च करने मे और अधिक समय लगाते हैं। इस संबंध मे उनका विश्वास होता है कि कुछ समय और रूक जाएं तो हो सकता है। अच्छा वर मिल जाए ।‌‌‌सबसे बड़ी बात है कि लड़की यदि अनपढ़ भी है तो उसके माता पिता की सोच यह हो गई है कि उसे एक पढ़े लिखे और अच्छे लड़के के साथ शादी करनी चाहिए । इस वजह से भी शादी  होने मे रूकावट आती है।

‌‌‌जिम्मेदारी लेने का डर

आमतौर पर भारत के अंदर गांवों मे शादी के लिए बिचावले होते हैं। यह लोग सगाई करवाने से लेकर शादी होने तक की सारी जिम्मेदारी लेते हैं। लेकिन बदलते समय के साथ अब इनकी भूमिका खत्म हो रही है। क्योंकि लोग अब अधिक व्यवस्थ हो चुके हैं। और ‌‌‌वे अब किसी भी तरह की जिम्मेदारी लेने से बचते हैं। इस वजह से भी सगाई के अंदर समस्या आता है। आज इन बिचावलों का काम मैरीज वेबसाइट कर रही हैं।

‌‌‌सगाई का लंबा चलना

पुत्री के विवाह के उपाय

आमतौर पर हमारे यहां पर शादी से काफी समय पहले ही सगाई करदी जाती है। इस वजह से लड़के लड़की आपस मे बातें भी करने लग जाते हैं। दोनों के अंदर मन मुटाव भी हो जाता है। ऐसी स्थिति के अंदर सगाई टूट जाती है। या फिर लम्बी चलने वाली सगाई के अंदर और भी कई सारी अड़चने आ जाने की वजह से ‌‌‌सगाई टूट जाती है।

‌‌‌ज्योतिष्य कारण

  • शादी नहीं होने के पीछे कई ज्योतिष्य कारण भी जिम्मेदार हो सकते हैं। इन पर भी हम बात कर लेते हैं।
  • ‌‌‌कुंड़ली के सप्तम भाव के अंदर बुद्व और शुक्र होने की वजह से बात शादी तक नहीं पहुंच पाती है।
  • राहु की दसा यदि लगी हुई हो तो शादी या सगाई भी टूट जाती है।
  • चौथे भाव मे मंगल और सप्तम भाव के अंदर शनी होने की वजह से शादी मे समस्याएं आती हैं।
  • सप्तम भाव मे गुरू और शनी होने पर शादी मे समय लग सकता है।
  • ‌‌‌महिला की कुंडली का सप्तम भाव शनी से पीड़ित हो तो शादी मे समस्या हो सकती है।
  • ‌‌‌चंद्र की राशी कर्क से गुरू सप्तम हो तो विवाह के अंदर देरी होती है।
  •  सूर्य, मंगल या बुध लग्न द्रष्टिडालते हों व गुरू 12 वे भाव मे हो तो विवाह मे अधिक देरी होती है।
  • ‌‌‌यदि किसी लड़की की कुंडली मे मांगलिक दोष हो तो उसकी शादी मे देरी होती है।
  • कुंडली के अंदर शादी का योग नहीं होने की वजह से
  • ग्रहों की दसा अनुकूल नहीं होने की वजह से शादी मे परेशानी आ सकती है।
  • ‌‌‌बेटी की शादी जल्दी करने के  उपाय ज्योतिष्य

‌‌‌

  • ‌‌‌जिस लड़की के विवाह के अंदर समस्या आ रही हो । उसे अपने नहाने के पानी के अंदर चुटकी भर हल्दी मिलाकर नहाना चाहिए । जिससे जल्दी विवाह के योग बनते हैं।
  • लड़की को बिल्कुल नए कपड़े अपने पास रखने चाहिए । जिससे जल्दी विवाह होने की संभावना रहती है।
  • ‌‌‌कुंडली के अंदर राहू दोष होने की वजह से विवाह होने मे देरी होती है। इस वजह से दूर्गा माता का पूजन करने से लाभ मिलता है।
  • तुलसी का विवाह करने से बेटी के विवाह मे आने वाली समस्याएं दूर हो जाती हैं
  • नीम के पेड़ के नीचे गणेश की प्रतिमा रेखें । उसकी रोज पूजा करें दूध हल्दी चढ़ाने और पंच मुख वाला ‌‌‌दीप जलाने से शादी की दिक्कत हट जाती है।
  • ‌‌‌गरीब लोगों की मदद करने से बेटी के विवाह का योग बनता है।
  • गुरूवार को भगवान विष्णु के मंदिर के अंदर जाकर एक कलंगी और पांच लडडू चढ़ाने से फायदा मिलता है।
  • शादी नहीं होने पर लड़की को गुरूवार के दिन पीले और शुक्रवार को सफेद वस्त्रों को धारण करना चाहिए।
  • ‌‌‌पूर्णिमा की रात को बरगद के पेड के चारों ओर 108 चक्कर लगादें आपकी मनौकामना अवश् पूरी होगी ।
  • हर सोमवार को शिवलिंग पर जल चढ़ाते हुए ॐ नमः शिवाय मंत्र का जाप करने से लाभ मिलता है।
  • लड़की को गुरूवार के दिन केले के पेड़ का पूजन करना चाहिए इस दिन केले ना खाएं।
  • ‌‌‌गुरूवार के दिन व्रत रखने से शादी के अंदर आने वाली बाधाएं दूर हो जाती हैं
  • सोमवार को साढे बाहर ग्राम दाल और सवा लिटर दूध का दान करने से शादी के अंदर आने वाली समस्याएं दूर होती हैं।
  • ‌‌‌गुरूवार के दिन गौ को चारा खिलाने से लड़की का विवाह तेजी से होता है।
  • ‌‌‌जल्दी शादी के लिए 12 ग्राम चने की दाल और स्वा लीटर दूध का दान करना चाहिए
  • कन्या के जल्दी विवाह के लिए यदि कन्या किसी दुल्हन के हाथों से अपने हाथों मे मेंहदी लगवा लेती है तो उसका विवाह जल्दी हो जाता है।
  • ‌‌‌सगाई करने आये लोगों को घर के अंदर इस प्रकार से बैठाना चाहिए कि उनका मुख घर के अंदर की ओर हो और बाहर का दरवाजा उनको ना दिखे ।
  • सफेद खरगोश को कन्या यदि अपने हाथ से भोजन देती है तो उसका विवाह जल्दी हो जाता है।
  • ‌‌‌यदि कोई अपना विवाह जल्दी होते देखना चाहता है तो उसे गुरूवार को दो आटे के पेडे पर हल्दी लगाकर खिलादेना चाहिए।
  • कन्या के विवाह की बात करने के लिए जब जाएं तो कन्या  उनको मिठाई खिलाकर और हंसते हुए विदा करे और अपने बाल को खुला रखे ।
  • ‌‌‌विवाह योग्य युवक या युवती जिस बेड पर सोती हो उसके नीचे कचरा रखने से भी विवाह मे समस्याएं आती हैं।
  • शिव और पार्वती की पूजा करने से विवाह शिघ्र हो जाता है। इसके लिए पूजा को विधिवत किया जाना बेहद ही जरूरी होता है।

जल्दी शादी होने के लिए मंत्र

  • अब तक हमने जल्दी शादी होने के कुछ आसान उपायों के बारे मे जाना था । अब हम जानेंगे कि जल्दी शादी होने के लिए कौन कौन से मंत्र आपकी मदद कर सकते हैं ? और आप इनका कैसे फायदा उठा सकते हैं।

‌‌‌ब्रहस्पति देव को प्रसन्न करने के लिए पीले रंग की वस्तुएं चढ़ानी चाहिए । जैसे  हल्दी, पीला फल, पीले रंग का वस्त्र, पीले फूल आदि। इस दिन व्रत भी रखना चाहिए । पीले वस्त्र इस दिन धारण करने चाहिएं । इस मंत्र का हर गुरूवार को पांच माला जाप करें

ॐ ग्रां ग्रीं ग्रों स: गुरूवे नम: ॥

  • शुक्ल पक्ष के गुरूवार से विष्णु और लक्ष्मी मां की मूर्ती के आगे बैठ कर ऊं लक्ष्मी नारायणाय नमः मत्र का जाप रोज तीन माला करें । 3 महिने तक गुरूवार को मंदिर के अंदर प्रसाद भी चढ़ाएं ।

गुरूवार को पीपल के पेड पर जल चढ़ाकर निम्न मंत्र का जाप करना चाहिए

गौरी आवे ,शिव जो ब्यावे.अमुक का विवाह तुरंत सिद्ध करेँ,

देर ना करेँ, जो देर होए , तो शिव को त्रिशूल पड़े,

गुरु गोरखनाथ की दुहाई फिरै ।।

  • ‌‌‌कन्या के विवाह के अंदर देरी होने पर किसी भी शुभ मूर्हत के अंदर निम्न मंत्रों का जाप करना चाहिए।

ॐ देवेंद्राणि नमस्तुभ्य देवेंद्रप्रिय भामिनी

विवाह भाग्यमारोग्यं शीघ्रलाभं च देहि मे।।

 

  • ‌‌‌लड़को की विवाह की बाधा को दूर करने के लिए निम्न मंत्र का जाप करें

‘पत्नीं मनोरमां देहि मनोवृत्तानुसारिणीम्। तारिणीं दुर्गसंसार सागरस्य कुलोद्भवाम्।।’

प्रति दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद इस मंत्र को कम से कम 5 माला जाप करें । जिससे विवाह के योग प्रबल होते हैं।

जल्दी शादी होने के लिए कुछ अतिरिक्त टिप्स

‌‌‌शादी न होने  पर आपको केवल ज्योतिष के भरोसे ही नहीं रहना चाहिए । वरन आपको कुछ अपनी खुद की तरफ से भी उपाय करना चाहिए । इस संबंध मे हम आपको कुछ टिप्स बता रहे हैं। आप उनको फोलो कर सकते हैं।

‌‌‌शादी की वेबसाइट पर अपना बायो डेटा डालें

https://www.jeevansathi.com  https://www.shaadi.com जैसी वेबसाइट पर आपको अपना बायो डेटा अपलोड करना चाहिए । जिससे यदि आप योग्य वर खोज रहे हैं या वधु आपको इसमे बहुत अधिक सहायता मिलेगी । पहले वाले तरीके वैसे देखा जाए तो अच्छे हैं । लेकिन उन तरीको से ‌‌‌यदि वर नहीं मिलता है। तो इन वेब का यूज करने मे कोई बुराई नहीं है। आप इनका यूज करके एक बार देखें । बहुत से लोग इनकी मदद से एक अच्छा जीवन साथी पा चुके हैं।

‌‌‌सगाई को गुपचुप करें

आमतौर पर भारत के अंदर जोड़ने वाले कम और तोड़ने वाले ज्यादा हैं। इस वजह से जब आप कहीं पर भी सगाई करें तो उसकी बात आपके पड़ोसियों के कानों तक ना जाने दें । क्योंकि हो सकता है वे आपसे जलते हों और आपकी सगाई तुड़वा भी सकते हों । सो सगाई को गुपचुप ही रखें ।शीघ्र विवाह के अचूक उपाय

‌‌‌सोच समझ कर निर्णय लें

आमतौर पर कई बार होता यह है कि सगाई तो हो जाती है। लेकिन बाद मे वह किसी वजह से टूट जाती है। तो सगाई करने से पहले अपने सामने वाले को अपने बारे मे साफ साफ बताएं और आप खुद भी सही समझे परखें । इस बात का वचन लेंले कि एक बार सगाई हो जाने के बाद उसे किसी भी हाल के अंदर तोड़ा ‌‌‌नहीं जा सकेगा।

‌‌‌खुद को बेहतर दिखाने की कोशिश करें

आमतौर पर कई ऐसी चीजें होती हैं जोकि सगाई होने मे समस्या पैदा करती हैं। जैसे यदि आप शराब पीते हैं और पीने के बाद कुछ भी कर देते हैं तो इस प्रकार की गलत आदतों की वजह से आपकी सगाई कोई नहीं करवाना चाहेगा । सो कुछ समय के लिए अपने आप के अंदर सुधार करें ।

 

‌‌‌सही उम्र मे विवाह करना

ऐसे लोगों का विवाह होने मे सबसे ज्यादा समस्या आती है। जिनकी उम्र निकल चुकी है। या वे काफी बड़े हो चुके हैं। सो  यदि आप नहीं चाहते हैं कि सगाई के अंदर कोई परेशानी आए तो आपको लड़के या लड़की का विवाह सही उम्र के अंदर ही कर देना चाहिए । नहीं तो बाद मे आपको परेशानी होगी।

हिंदू विवाह के सात वचन जो कि हर कन्या अपने पति से मांगती है

हनुमानजी का विवाह कैसे हुआ और उनके पुत्र का क्या नाम था

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *