बिल्ली का जूठा खाने से होते हैं यह 10 भयंकर नुकसान

‌‌‌पीछले दिनों एक यूजर ने हमे एक प्रश्न भेजा कि सर बताइए बिल्ली का झूठा दूध पीना चाहिए या नहीं ? और बिल्ली का जुठा खाने से क्या नुकसान हो सकता है। दोस्तों अक्सर हमारे घर के आस पास कई सारी बिल्ली मौजूद होती हैं। और वे घर के अंदर पड़े दूध को कई बार जुठा कर देती हैं। और ‌‌‌जब दूध काफी अधिक मात्रा मे होता है तो हमारा मन करता है कि हम उस दूध का यूज करलें । आमतौर पर यह गलती बहुत से लोग करते हैं। कुछ लोगों को लगता है कि बिल्ली का  जुठा खाने से नुकसान नहीं होता है। लेकिन हकीकत कुछ और ही है।

‌‌‌आपको बतादें कि बिल्ली का जुठा खाने से कई प्रकार के नुकसान हो सकते हैं। और बिल्ली खासकर यदि आपके घर के अंदर नहीं पाली गई है तो हो सकता है वह किसी भी रोग से संक्रमित हो और बिल्ली का जुठा खाने से आप भी संक्रमित हो सकते हैं। ‌‌‌बिल्ली की लार के अंदर कई प्रकार के बैक्टिरिया पाये जाते हैं जो आपको बिमार बना सकते हैं। ‌‌‌आइए जानते हैं  बिल्ली का जूठा खाने के नुकसान के बारे मे ।

80 मिलियन से अधिक अमेरिकी परिवारों में एक बिल्ली, कुत्ता या दोनों हैं। और यह लोग अपने पालतू जानवर को इंसानो से भी ज्यादा प्यार करते हैं। हालांकि इनकी वजह से उनका स्वास्थ्य खराब होने का चांस हमेशा ही बना रहता है।

‌‌‌बिल्ली का जूठा खाने के नुकसान आपको दस्त हो सकते हैं

आमतौर पर बिल्ली के मुंह के अंदर या उसके शरीर पर दस्त के वायरस हो सकते हैं। और यदि आप बिल्ली का जुठा दूध पीते हैं तो हो सकता है। आपको दस्त हो जाएं ।पालतू जानवरों के दस्त का कारण साल्मोनेला या कैम्पिलोबैक्टर है । ‌‌‌यदि आपकी बिल्ली आपका मुंह चाटती है तो भी आपको इससे खतरा हो सकता है।

‌‌‌बिल्ली का जुठा दूध पीने के नुकसान दाद, एक कवक रोग

यदि आप अपनी बिल्ली के त्वचा के संपर्क मे आते हैं तो दाद या कवक रोग हो सकता है। बिल्ली के अंदर टोक्सोप्लाज्मोसिस नामक एक जीवाणु पाया जाता है। जोकि इंसानों को नुकसान पहुंचा सकता है। इस वजह से आपको सावधान होने की आवश्यकता है।

टोक्सोप्लाज्मा गोंडी

बिल्ली का जुठा खाने से टोक्सोप्लाज्मा गोंडी  नामक वायरस इंसानों के शरीर के अंदर जा सकता है। यदि कोई आवारा बिल्ली घर के अंदर रखा दूध पी जाती है या फिर भोजन को बिल्ली जुठा कर देती है। तो उसके अंदर टोक्सोप्लाज्मा गोंडी  नामक वायरस आ सकता है। आमतौर पर यह वायरस ‌‌‌ऐसी बिल्ली के उपर रहता है जोकि बाहर मरे हुए जानवरों को खाती है। आमतौर पर घरेलू बिल्ली जोकि साफ सुथरी रहती है के उपर वायरस नहीं होता है। यह रोग होने की वजह से इंसान के दिमाग पर फोड़े हो सकते हैं और दुर्लभ मामलों के अंदर अंधापन भी विकसित हो सकता है। इसके अलावा टोक्सो ‌‌‌मानव व्यवहार को भी प्रभावित कर सकता है।टोक्सो जन्मजात शिशुओं को नुकसान पहुंचा सकता है।

कैम्पिलोबैक्टर का संक्रमण

कैम्पिलोबैक्टर का संक्रमण बिल्ली का जुठा खाने से भी हो सकता है। जब एक संक्रमित बिल्ली दूध या किसी और खाध्य प्रदार्थ के अंदर अपना मुंह देती है तो यह जीव उसके अंदर मिल सकते हैं। और बाद मे आप उसी खाध्य पदार्थ को खा लेते हैं तो आप कैम्पिलोबैक्टर का संक्रमण के शिकार हो ‌‌‌हो सकते हैं।इस बिमारी की वजह से आंतो की बूखार और दस्त होती है। आमतौर पर यह बिमारी बिल्ली के मल या उसके शिकार को नंगे हाथों से उठाने की वजह से सबसे ज्यादा होती है।

राउंडवॉर्म

राउंडवॉर्म  नामक एक वायरस भी बिल्ली के शरीर के अंदर पाया जाता है। और संभव है । जब बिल्ली ने दूध जुठा किया हो तो उसके अंदर भी यह वायरस आ सकता है। और ऐसी स्थति के अंदर यदि आप उस दूध का प्रयोग करते हैं तो यह आपको भी नुकसान पहुंचा सकता है।

‌‌‌ बिल्ली का जूठा खाने के नुकसान  खुजली होना

कॉर्नेल यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ वेटरनरी मेडिसिन की एक वेबसाइट ने बताया है कि जब कोई व्यक्ति बिल्ली का जुठा खाता है तो उसे खुजली भी हो सकती है। आमतौर पर संक्रमित बिल्ली जब इन चीजों के संपर्क मे आती है तो यह जीवाणु उन पदार्थों पर रह जाते हैं और बाद मे त्वचा के संपर्क मे आकर खुजली ‌‌‌पैदा कर सकते हैं।

Cryptosporidium

यदि आप बिल्ली का जुठा खाते हैं तो आपके अंदर Cryptosporidium  नामक बीमारी फैल सकती है।क्रिप्टोस्पोरिडियम एक प्रकार का परजीवी होता है। जोकि कुत्ते और बिल्ली के अंदर सबसे आम होता है। जब संक्रमित बिल्ली किसी भोजन को जुठ देती है। और वही इंसान खा लेता है तो यह परजीवी इंसान के ‌‌‌शरीर के अंदर चला जाता है। और इसके बाद यह आंतरायिक दस्त जहरीले दस्त, बुखार, पेट में ऐंठन, मतली और उल्टी सहित गंभीर संक्रमण कारण बनता है।

‌‌‌इस जीवाणु की कई प्रजातियां हैं। जिनमे से C. कैनिस कुत्तों को संक्रमित करता है जबकि C. फेलिस बिल्लियों को संक्रमित करता है। आमतौर पर यह परजीवी इन बिल्लियों के अंदर दूषित भोजन और पानी पीने से आता है।

‌‌‌बिल्ली का जुठा खाने से  toxoplasmosis ‌‌‌होता है

बिल्ली का जुठा खाने का नुकसान यह भी है कि इंसानों के अंदर toxoplasmosis नामक बीमारी पैदा हो सकती है।जब बिल्ली बाहर जानवरों को मारती है और उनको खाती है तो toxoplasmosis  जीवाणु से संक्रमित हो जाती है। और ऐसी स्थिति के अंदर यह जीवाणू उसके शरीर के अंदर प्रवेश कर जाते हैं। ‌‌‌आमतौर पर टोक्सोप्लाज़मोसिज़  मनुष्य पर भी हमला करता है। लेकिन अधिकतर लोगों का प्रतिरक्षा तंत्र इन जीवाणुओं को मार देता है। लेकिन  जिनलोगों का प्रतिरक्षा तंत्र कमजोर होता है। उनके लिए टोक्सोप्लाज़मोसिज़   सबसे ज्यादा खतरा होता है। और जब गर्भवति महिलाओं को यह संक्रमित कर देता है तो परिणामस्वरूप भ्रूण के मस्तिष्क में प्रेवश हो सकते हैं, और विकासात्मक असामान्यताएं, गर्भपात या स्टिलबर्थ हो सकता है।

‌‌‌यह परजीवी बिल्ली को भी प्रभावित करते हैं।यह बीमारी एक बिल्ली के बच्चे के फेफड़े, यकृत और तंत्रिका तंत्र को भी प्रभावित कर सकती है। परजीवी के संपर्क में रहने वाले बिल्ली के बच्चे कमजोर हो जाते हैं।

हुकवर्म

एंकिलोस्टोमा हुकवर्म परजीवी हैं जो जानवरों की छोटी आंत में आक्रमण कर सकते हैं।एंकिलोस्टोमा सीलोनिकम और एंकिलोस्टोमा ट्यूबैफोर्मे कीड़े हैं ।रक्त चूसने वाले परजीवी ऐनिमिया और छोटी आंत के अंदर सूजन का कारण बनते हैं। ‌‌‌यह कीड़े अंदर आंत मे घाव पैदा कर देते हैं। जिससे खून की कमी हो सकती है। और यह  संक्रमण काफी घातक हो सकता है।

हुकवर्म हमेशा गंदगी के अंदर पाया जाता है। और बिल्ली जैसे जानवर जब इस गंदगी के आस पास अपना भोजन करते हैं तो यह उनके शरीर मे पैरों के माध्यम से भी प्रवेश कर सकता है। और जब बिल्ली का जुठा भोजन इंसान खाते हैं तो उनको भी यह नुकसान पहुंचा सकता है।

बिल्ली का जूठा खाने के नुकसान  कैट स्क्रैच डिजीज

कैट स्क्रैच डिजीज भी बिल्ली के जुठे खाने से भी फैलती है। इस बिमारी का  बैक्टीरिया-बारटोनेला हेनसेला होता है। जोकि बिल्ली के मुंह और उसके बालों और पंजों के अंदर पाया जाता है। जब  बिल्ली भोजन को जुठ देती है और उसी भोजन को इंसान खा जाते हैं तो कैट स्क्रैच डिजीज हों सकता है।

‌‌‌इस बिमारी के संपर्क मे आने के बाद व्यक्ति को बुखार हो जाता है। और छाले भी होने लगते हैं। इसके अलावा अंडकोषों में दर्द भी हो सकता है। और कई बार तो पीड़ित व्यक्ति की मौत तक हो जाती है।

बिल्ली का जूठा खाने के नुकसान  के बारे मे आप जान ही चुके हैं। यदि आपके घर के अंदर किसी बिल्ली ने भोजन के अंदर मुंह डाल दिया है तो बेहतर होगा आप उस भोजन का सेवन नहीं करें । क्योंकि हो सकता है उस बिल्ली के परजीवी उस भोजन के अंदर रह गए होंगे और ऐसी स्थिति के अंदर यह आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं।

बिल्ली का झूठा दूध पीना चाहिए या नहीं ?


जैसाकि हम आपको उपर बता ही चुके हैं कि बिल्ली का जुठा दूध हो या किसी भी प्रकार का भोजन हो उसका सेवन नहीं करना चाहिए । यदि आपको लगता है कि इससे कुछ नहीं होता है तो आप बहुत बड़ी रिस्क फालतू के अंदर ले रहे हैं।‌‌‌और वैसे भी वैज्ञानिक भी यह सिद्व कर चुके हैं कि बिल्ली अनेक रोगों को इंसानो पर फैलाती है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!