फेसबुक पर प्यार हुआ है तो मिल सकता है आपको भी धोखा

फेसबुक social  नेटवर्किंक साईट है। आजकल फेसबुक पर प्यार और धोखा होने की खबरे आम होती जा रही हैं। बहुत से लोग फेसबुक पर अपनी फर्जी आईडी बना लेते हैं और किसी लड़की को फंसाने की ‌‌‌कोशिश के अंदर लग जाते हैं। जब कोई लड़की उनके चक्कर मे फंस जाती है। तो वे ‌‌‌शादी के बहाने उससे मिले हैं। और फिर संबंध बनाते हैं फिर धोखा देकर फरार हो जाते हैं। ऐसी दसा के अंदर लड़की के पास रोने के अलावा और कोई चारा भी नहीं होंता है। क्योंकि ऐसे लोग अधिकतर फर्जी अकाउंट बनाकर ही ऐसा करते हैं।

 

इस लेख को लिखने से पहले मैंने फेसबुक पर प्यार और ‌‌‌शादी के कई मामलों के बारे मे पढ़ा है। जहां तक मैंने देखा है अधिकतर फेसबुक पर हुए प्यार के अंदर लड़की को धोखा ही मिला है। लड़के लड़की को अपने जाल के अंदर फंसा लेते हैं और अपना काम पूरा होने के बाद या तो उसे मार देते हैं। या फिर छोड़कर भाग जाते हैं। तो मेरा आपको यही सुझाव है  िकइस फेसबुक के प्यार पर कतई विष्वास नहीं करें क्योंकि आप नहीं जानते कि आपके सामने वाले का सच्च क्या है। आपको यहां पर उन्हीं बातों को सच्च मानना पड़ता है जोकि वो आपको बताता है।
पीछले दिनों एक ऐसी घटना घटी की एक अधैड़ व्यक्ति किसी 17 साल की लड़की से दिल लगा बैठा दोनों ने काफी लम्बे समय तक चैट किया किंतु लड़की को नहीं पता था कि उससे बात करने वाला उसके सपनो का राजकुमार नहीं वरन उसकी बाप की उम्र का है। जब लड़की उससे मिलने पहुंची तो उसको देखकर उसे बहुत अफसोस हुआ
आप चाहें तो फेसबुक पर हुए प्यार के अंजाम को नेट पर आसानी से सर्च कर सकते हैं। अधिकतर परिणाम नगेटिव ही मिलेंगे

क्योंनहीं होते फेसबुक से बने ‌‌‌रिश्तेसक्सेस

दोस्तों फेसबुक लाईफ और रियल लाईफ के अंदर बहुत अधिक अंतर होता है। जैसा हम रियल लाईफ के अंदर सोचते हैं वो सब फेसबुक पर नहीं होता है। फेसबुक पर रियलटी भी नहीं होती है। अधिकतर लोग अपनी पहचान छुपाकर बात करते हैं।

1.कुछभीरियल नहीं होता है

फेसबुक पर बने ‌‌‌रिश्ते इसलिए भी सक्सेस नहीं होते क्योंकि वहां पर यह पता नहीं लग पाता कि सामने वाला सच कह रहा है। वह जो कुछ बोलता है। उसे ही सच मानना पड़ता है। जैसे सामने वाले ने कह दिया की वो करोड़पति है तो हम यह पता नहीं लगा सकते कि वो सच मे ही करोड़पति है कि नहीं और भी बहुत सी बातें छुपा ली जाती हैं। जैसे कुछ लोग अपने ‌‌‌शादी सुदा होने की बात भी छुपा कर सामने वाले से बातें करते हैं। किंतु जब यह छुपाई गयी बातें सामने वाले को पता चलती हैं तो फिर ‌‌‌रिश्ते के बने रहने का सवाल ही पैदा नहीं होता है।

2.लड़के सिर्फ लड़की का इस्तेमाल करते हैं

वैसे देखने वाली बात यह भी है। कि अधिकतर फेसबुक पर बने प्यार के ‌‌‌रिश्ते लड़को की वजह से भी सफल नहीं हो पाते हैं। फेसबुक पर जो भी लड़के लड़कियों को फंसाते हैं उनका मकसद सिर्फ लड़की से संबंध बनाना होता है। उसका इस्तेमाल करना होता है। बस उनकी सोच यहीं तक होती है। इस वजह से भी लड़के एक बार तो लड़की से ‌‌‌शादी करने का वादा करते हैं। या सादी कर ही लेते हैं। बाद मे उसे छोड़कर भाग जाते हैं। अधितर केसों मे यही होता है।

3.सिर्फएक भावनात्मकजुड़ाव ही प्यार नहीं होता

 

फेसबुक पर लड़के लड़की आपस मे चैट करते हुए भावनात्मक रूप से आपस मे जुड़ जाते हैं। इस भावनात्मक जुड़ाव का असर लड़की पर अधिक पड़ता है। तब उनको लगता हैकि उन्हें प्यार हो गया है। लेकिन फेसबुक के प्यार मे और रियल के प्यार के अंदर बहुत अधिक फर्क रहता है। फेस बुक पर हम जिसे प्यार समझते हैं। उसमे बहुत कुछ झूंठ होता है। यानि हम झूंठ से प्यार करते हैं। लेकिन रियल प्यार मे बहुत कुछ सच्च होता है।
‌‌‌इस भावनात्मक प्यार के सहारे जब दोनों आगे चलते हैं तो यह जुड़ाव खत्म हो जाता है। तब दोनों को रियलटी का आभास होता है। तब एक दूसरे से दूर भागने की ‌‌‌कोशिश करते हैं।

4.पूरी आजादी

फेसबुक पर हुए प्यार का समर्थन लड़की के घरवाले खासकर ईंडिया के अंदर नहीं करते इस वजह से इस प्रकार से बने ‌‌‌रिश्ते की कोई जवाबदारी नहीं होती हैं। लेकिन वैसे ‌‌‌रिश्ते को देखें तो सगाई कराने वाले व्यक्ति की यह जवाबदारी होती है कि यदि लड़का लड़की को ‌‌‌परेशानी करता है तो बिचावला लड़के को कोई सजा दे सकता है। या इस मामले के अंदर हस्तक्षेप कर सकता है।  

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!