पत्नी की तारीफ कैसे करे या बीवी की तारिफ कैसे और क्यों करें ?

दोस्तों शादी जब हम करते हैं तो हमारा रिलेशन अच्छा चलता है। लेकिन शादी जितनी पुरानी होती जाती है। एक तरह से लगभग सभी लोगों का मोह भंग होता जाता है। यह एक आम बात है और सभी के साथ ऐसा होता है। ‌‌‌यदि हम अपने रिश्ते के अंदर सुधार नहीं करते हैं तो यह भी संभव है कि रिश्ता खत्म हो जाता है। वैसे हम मिडल क्लाश लोग हैं और हमारे यहां पर रिश्ते को आसानी से खत्म नहीं किया जा सकता है। इसी वजह से हम उसका बोझ भी ढोते रहते हैं।

‌‌‌जहां तक हमारा मानना है रिश्ते को अच्छा बनाए रखने के लिए आपको नए नए प्रयोग करना भी आवश्यक रहता है। और पत्नी की तारिफ करना भी एक तरह से रिश्ते के अंदर एक नया प्रयोग है। ‌‌‌बहुत से लोग हमने ऐसे भी देखे हैं जो शादी के पहले या शादी के कुछ दिन बाद तक तो अपनी पत्नी की तारिफ करते रहते हैं। लेकिन जब शादी को कुछ समय बीत जाता है तो फिर उनकी जुबान हमेशा के लिए बंद हो जाती है।और उनकी पत्नी  तारिफ के दो शब्द सुनने को बेताब हो जाती है।

‌‌‌लेकिन उस समय तो उनके मुंह के अंदर जहरिले शब्द ही निकलते हैं। और जिसके परिणामस्वरूप लड़ाई झगड़ा होता है।तो दोस्तों यदि आप अपने रिलेशन को एक अच्छा रिलेशन बनाए रखना चाहते हैं तो आपको पत्नी की तारिफ करनी चाहिए। ‌‌‌इस लेख के अंदर हम बात करने वाले हैं कि आप पत्नी की तारिफ कैसे कर सकते हैं ? और आपको किन चीजों से बचना चाहिए ? और पत्नी की तारिफ करने का फायदा क्या है ?

Table of Contents

पत्नी की तारीफ कैसे करे

‌‌‌दोस्तों पत्नी की तारिफ करने के कई सारे तरीके हैं। जैसे आप उसकी पसंदिदा चीजों की तारिफ कर सकते हैं। और उसके सुंदरता की भी तारिफ कर सकते  हैं। आप पत्नी के किसी खास पहनावे की तारिफ भी कर सकते हैं। कुल मिलाकर आपके पास ऐसी अनेक चीजे हैं। जिनकी आप तारिफ कर सकते हैं। ‌‌‌तो आइए जानते हैं आप पत्नी की तारिफ कैसे कर सकते हैं।

‌‌‌पत्नी के पहनावे की तारिफ करें

याद रखें महिलाओं को सूट , साड़ी आदी बेहद पसंद होता है। वे कपड़ों को पहनकर आइने के सामने खड़े होकर घंटों देखती हैं कि क्या वे अच्छी लग रही हैं ? तो आपको इसका जवाब देना होता है कि हां आप बहु लाजवाब लग रही हैं। बस आपके इस जवाब से वह बहुत खुश हो जाती हैं। ‌‌‌यदि आप उन्हें कोई नकारात्मक जवाब देते हैं तो उनके मन को ठेस पहुंचती है। और यदि आपकी पत्नी उंचे घर की है और आपके बार बार उनके पहनावे को लेकर नकारात्मक जवाब आते हैं। या आप इसको लेकर अपनी पत्नी की तारिफ नहीं करते हैं तो आपके रिश्ते मे खटाश आ सकती है। ‌‌‌हालांकि कुछ महिलाएं ऐसी भी होती हैं तो इन सब चीजों को मात्र एक मजाक मानती हैं। वैसी महिलाओं पर यदि आप तारिफ नहीं भी करते हैं तो कोई फर्क नहीं पड़ता है।

‌‌‌पत्नी की सुंदरता की तारिफ कैसे करें ?

हर लड़की सुंदर दिखना चाहती है। और महिलाओं के अंदर तो सुंदर दिखने की होड़ सी लगी रहती है। महिलाएं सुंदर दिखने के लिए क्रीम लगाती हैं। और बालों को अच्छे से सजाती हैं। कुल मिलाकर वे सुंदर दिखने के लिए हर वो जतन करती हैं जो वे कर सकती हैं। ‌‌‌यदि आपकी पत्नी भी आईने के सामने खड़े होकर आपके लिए सजती है और उसके बाद आपसे ही यह पूछती है कि मैं कैसी लग रही हूं तो आपको इसका एक शानदार जवाब देना चाहिए । जैसे आप कह सकते हैं कि आप तो एक हूर की परी लग रही हैं। या आपकी खूबसूरती वास्तव मे लाजवाब है।

‌‌‌यदि आप अपनी पत्नी को उसकी सुंदरता पर नगेटिव कमेंट करते रहते हैं तो धीरे धीरे उसके मन मे कहीं ना कहीं यह बैठ जाता है कि वह सुंदर नहीं है और ऐसा दिमाग मे बैठ जाने के बाद वह धीरे धीरे सजना संवरना छोड़देगी ।

‌‌‌जबकि कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जो इस तरह की तारिफ के शब्द सुनने को बैचेन हो जाती हैं। यदि उनका पति उनको बदसूरत बताता है तो वे अपने आप ही किसी बाहर युवक की तरफ आकर्षित हो जाती हैं जो उनकी सुंदरता की तारिफ कर देता है। बस इन्हीं छोटी छोटी चीजों से ही अवैध रिश्ते की सुरूआत होती है।

‌‌‌पत्नी के बनाए खाने की तारिफ करें

आपकी पत्नी मेहनत से खाना बनाती है और खाना खाने के बाद आप यदि यह कह देते हैं कि खाना बहुत ही घटिया बनाया है तो निश्चित ही हर महिला को गुस्सा आ ही जाएगा । ज्यादातर महिलाओं का इस संबंध मे यही जवाब होगा कि मैं तो ऐसा ही बना सकती हूं और अच्छा बनाना है तो ‌‌‌आप खुद बना लिजिए । ‌‌‌यदि आप उसी खाने की तारिफ करदेते हैं तो आपकी पत्नी को काफी अच्छा लगेगा । जब घर के बाकी सदस्य उस खाने को बेकार बताते हैं तो आपकी पत्नी को कम से कम आप से यही उम्मीद रहती है कि आप तो कम से कम उसे बुरा ना बताएं । और जब आप ही उसे बुरा बता देते हैं। ‌‌‌तो आपकी पत्नी को सबसे ज्यादा बुरा लगता है। और उसे यह लगता है कि उसके साथ कोई नहीं है।

‌‌‌बहुत सी महिलाएं जो अपने पति से प्यार करती हैं। बस वे यही उम्मीद करती हैं कि उनका पति उनके बनाए खाने की तारिफ जरूर करे । सो आपको अपनी पत्नी के बनाए खाने की तारिफ जरूर कर देनी चाहिए । भले ही आपकी पत्नी ने खाना अच्छा ना बनाया हो ।

‌‌‌पत्नी के माता पिता की भी तारिफ करें

जब एक महिला की शादी हो जाती है तो वह अपने माता पिता को छोड़कर अपने पति के घर रहने आ जाती है। और कोई भी महिला अपने माता पिता को कभी नहीं भूलती है। बहुत से पति अपने पत्नी के माता पिता की बुराई करते हैं।‌‌‌कोई भी पत्नी अपने घरवालों की बुराई नहीं सुनना चाहेगी। बहुत बार इस वजह से रिश्ते तक टूट जाते हैं।

वास्तव मे ऐसा नहीं करना चाहिए ।‌‌‌ऐसा करने से रिश्ते के अंदर दरार आ जाती है। तो आपको चाहिए कि जब भी आपकी पत्नी के माता पिता की बात आए तो आपको कम से कम एक बार तो तारिफ कर ही देनी चाहिए । क्योंकि ऐसा करने का आपको पैसा नहीं देना होता है और इससे आप दोनों के बीच प्यार ही बढ़ता है।

‌‌‌पत्नी के गहनों की तारिफ करना

महिलाओं को सोने और चांदी के गहने बहुत पसंद होते हैं। और हर पत्नी इनको पहनना भी पसंद करती है। आपकी पत्नी जब भी कोई गहने पहने तो आपको कम से कम एक बार तो अवश्य ही यह कहना चाहिए कि वास्तव मे वह इन गहनों के अंदर बिल्कुल परी लग रही है। और उसका जवाब क्या होगा यह ‌‌‌तो आप समझ ही गए होंगे ।

‌‌‌तुम्हारी आवाज बहुत प्यारी है

बहुत बार जब दो प्रेमी जोड़े आपस मे बात कर रहे होते हैं तो प्रेमी यह शब्द जरूर बोलता है कि तुम्हारी आवाज बहुत प्यारी है।और यह शब्द एक जादू की तरह होता है जो उसकी प्रेमिका पर काफी गहरा असर करता है।‌‌‌जरूरी नहीं है कि आप यह शब्द फोन पर ही बोलें आप यह शब्द अपनी पत्नी के सामने भी बोल सकते हैं। और यदि आप उसे लगभग महिने के अंदर 10 बार भी यह शब्द बोलते हैं तो निश्चिय ही इसका फायदा है। और आपके रिश्ते के अंदर प्यार बढ़ता है।

‌‌‌लेकिन यदि हम सच की बात करें तो शादी के दो से तीन साल बाद यह शब्द हमारे रिश्ते से ऐसे गायब हो जाता है जैसे कभी आया ही नहीं था। दोस्तों हमारा यह रूखापन ही महिलाओं के दिमाग पर गलत असर डालता है। बहुत सी महिलाएं शादी के बाद यह शिकायत करती हुई मिल जाएंगी कि अब वो मजा नहीं रहा ।‌‌‌वही आप हैं वही आपकी पत्नी है लेकिन आपका दिमाग अंदर से बदल गया है आपकी पत्नी का दिमाग भी अंदर से बदल गया है । इस इसी वजह से अब वह मजा नहीं रहा ।

‌‌‌मैं तुम्हें बहुत पसंद करता हूं

मान लिजिए आपकी पत्नी और आपके बीच कुछ बातें चल रही हैं तो और बात जब पसंद की आती है तो आपको अपनी पत्नी को एक बार अवश्य ही बोलना चाहिए कि मैं तुम्हें बहुत पसंद करता हूं ,तुम्ही हो जो मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण हो । कुल मिलाकर यह शब्द आपकी पत्नी को एक नया ‌‌‌एहसास देंगे ।

पत्नी की तारीफ कैसे करे‌‌‌ तुम मेरी सबसे प्यारी चीज हो

‌‌‌तुम मेरी सबसे प्यारी चीज हो  यह शब्द काफी जादुई शब्द है। एक बार आप इसको अपनी पत्नी को बोलकर देंगे । सच मे ही आपकी पत्नी को बहुत अच्छा लगेगा । आप यह शब्द लिखकर उसे मैसेज कर सकते हैं। या फिर आप अपनी भावनाओं को इंडायरेक्टली उसके सामने ला सकते हैं। ‌‌‌यह पत्नी की तारिफ करने का एक अच्छा तरीका है।

‌‌‌आई लव यू बोलें

आई लवयू शब्द जब नई नई किसी की शादी होती है तो बहुत बार काम मे लिया जाता है। लेकिन जैसे जैसे शादी पुरानी होती जाती है। आई लव यू शब्द एक तरह से रिश्ते से ऐसे गायब हो जाता है। जैसे कभी यह था ही नहीं । दोस्तों आई लव यू बोलना भी एक तरह से  पत्नी की तारिफ करने से कम नहीं है।‌‌‌हमारे पास ऐसी कई कमेंटस आती हैं। जिनमे महिलाएं यह शिकायत करती हैं कि उनका पति  आजकल आई लव यू भी नहीं बोलता है। रिश्ते को मधुर बनाए रखने के लिए यह आवश्यक है।

‌‌‌पत्नी की तारिफ कैसे करें ? इस बारे मे हमने आपको उपर बताया है। आप इसे अच्छी तरह से समझ ही गए होंगे । लेकिन कुछ ऐसी चीजें और भी हैं जिनके बिना पत्नी की तारिफ कैसे करें ? लेख अधूरा ही रह जाता है तो आइए जान लेते हैं। उन चीजों के बारे मे भी ।

‌‌‌पत्नी की तारिफ करने या बीवी की तारिफ करने के फायदे

दोस्तों जैसाकि हम सभी जानते हैं कि इंसान बिना फायदे के कोई काम नहीं करता है। तो बिना फायदे के वह पत्नी की तारिफ कैसे कर सकता है ? तो दोस्तों पत्नी की तारिफ करने के क्या फायदे हैं ? यह भी आपको बताना जरूरी हो जाता है।

‌‌‌आपस मे प्यार बढ़ता है

दोस्तों जब किसी की नई नई शादी होती है तो दोनों के बीच बहुत प्यार होता है। लेकिन समय के साथ प्यार कहीं पर खोने लगता है। और जब आप अपनी पत्नी की तारिफ करते हैं। तो उसके मन मे आपके प्रति प्रेम बढ़ जाता है। और उसे यह महसूस होता है कि आपके अंदर पहले वाला वह सब कुछ है आप ‌‌‌बदले नहीं हैं।‌‌‌पत्नी की तारिफ करने से दोनों के बीच वैचारिक नजदिकियां आती हैं जो प्यार बढ़ाने का काम करती हैं।

‌‌‌रिश्ता मजबूत बनता है

पति पत्नी के रिश्ते की सफलता के लिए यह बहुत आवश्यक है कि रिश्ता मजबूत हो । और वैसे भी आजकल का माहौल ही कुछ इस प्रकार का हो चुका है कि एक महिला को जाल मे फंसाने के लिए दूसरे लोग तैयार ही रहते हैं।‌‌‌यदि आप नहीं चाहते हैं कि आपकी पत्नी का किसी के साथ चक्कर चले तो आपको अपनी पत्नी की तारिफ करनी चाहिए।‌‌‌जो पति अपनी पत्नी की हर समय बुराई करते रहते हैं तो ऐसी स्थिति के अंदर उनके मन मे अपने पति की नगेटिव छवी बन पाती है। कहने का मतलब है महिला अंदर से उस बुराई को स्वीकार नहीं कर पाती है। और जब कोई अन्य व्यक्ति आपकी पत्नी की तारिफ करता है।

‌‌‌है तो वह उसके दिल की बात का समर्थन करता है। ऐसी स्थिति के अंदर महिला के दिमाग मे उस व्यक्ति का चेहरा पॉजिटिव हो जाता है। बस इसी से अवैध संबंध की शुरूआत होती है।

‌‌‌रिश्ते मे नयापन

आमतौर पर जैसे जैसे पुराना होता है। उसके अंदर सब कुछ खत्म सा हो जाता है। और ऐसी स्थिति के अंदर लोग उबने लगते हैं। यदि आप अपनी पत्नी की तारिफ करते हैं तो निश्चय ही आप उस रिश्ते के अंदर नयापन लाते हैं। और रिश्ते के अंदर फिर से प्रेम बरकरार हो जाता है।

‌‌‌वैचारिक समरूपता पैदा होती है

जब आप अपने पत्नी की तारिफ करते हैं तो आप वैचारिक समरूपता पैदा करते हैं। वैचारिक समरूपता का मतलब है विचारों की समानता । और वैचारिक मत भेद दूर हो जाते हैं। इसी वजह से रिश्ते के अंदर अच्छाई आती है। आपको बतादें कि ऐसा करने से लड़ाई झगड़े भी अपने आप कम हो जाएंगे।

‌‌‌पत्नी की तारिफ करते समय इन बातों का रखे ध्यान

दोस्तों आप पत्नी की तारिफ तो कर देते हैं। लेकिन कई बार जाने अंजान के अंदर आपके वर्ड पत्नी को कड़वे भी लग जाते हैं। ऐसी स्थिति के अंदर आपकी तारिफ का कोई मतलब नहीं रह जाता है। सो आपको कुछ बातों पर कमेंट करने से बचना चाहिए।

‌‌‌पत्नी के दिल को चोट पहूंचाने वाली बात

यदि आप पत्नी की तारिफ करते हैं तो आपकी तारिफ तभी प्रभावी तरीके से काम करेगी । जब आप अपनी पत्नी की भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले बयान देना बंद करेंगे । वैसे महिलाएं अलग अलग प्रकार की होती हैं। कुछ महिलाएं ऐसी होती हैं जिनके सामने आप कुछ गलत बातों पर ‌‌‌बयान दे सकते हैं। वे इनको आसानी से मजाक समझ कर टाल देती हैं। लेकिन कुछ महिलाएं ऐसी भी होती हैं। जोकि गलत बातों  को पसंद नहीं करती है। आपकी पत्नी किस टाइप की है। उस हिसाब से ही बात चित करें ।

‌‌‌पत्नी की तारिफ बनावटी ना हो

जब आप अपनी पत्नी की तारिफ कर रहे हैं तो उसके अंदर बनावटीपन नहीं होना चाहिए । आपकी पत्नी को यह महसूस नहीं होना चाहिए कि आप जानबूझकर या उसका दिल रखने के लिए उसकी तारिफ कर रहे हैं। आपके तारिफ करने का अंदाज ऐसा होना चाहिए । जिससे ऐसा लगे की आप दिल से तारिफ ‌‌‌कर रहे हैं।

‌‌‌सही समय और सही जगह पर तारिफ करे

आमतौर पर आपकी तारिफ तभी सफल होती है। जब आप सही समय और सही जगह और सही चीज पर तारिफ करते हैं। जब आप तारिफ कर रहे हों तो आपको इस बात का ज्ञान होना चाहिए कि आपकी पत्नी के मन मे क्या चल रहा है ? यहां पर तारिफ करना उचित होगा या नहीं होगा ? इस बारे मे भी आपको पता ‌‌‌होना चाहिए।‌‌‌गलत जगह और गलत चीज पर तारिफ करने का मतलब है आपकी तारिफ का कोई फायदा ना होना ।

‌‌‌दोस्तों पत्नी की तारिफ कैसे करें ? बीवी की तारिफ लेख आपको कैसा लगा ? मुझे इस बात पर यकीन है कि पत्नी की तारिफ कैसे करें ? और पत्नी की तारिफ करने के क्या फायदे हैं? इस बारे मे आप विस्तार से जान ही चुके होंगे । यदि आपकी कोई समस्या है तो नीचे कमेंट करें ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *