पत्नी का दूध पीने के फायदे Benefits of drinking milk of a wife is real ?

वैसे देखा जाए तो लोग भी इंटरनेट पर अजीब अजीब चीजे सर्च करते हैं। उनमे से एक है पत्नी का दूध पीने के फायदे क्या हैं ? बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो अपनी बीवी का दूध पीते हैं। और उनको यह सब अच्छा भी लगता है। लेकिन क्या ऐसा करने का कुछ फायदा भी है ? या सब कुछ भ्रम है? ‌‌‌क्या बीबी का दूध पीना चाहिए ? और दूध कब पीना चाहिए ? ऐसे सवालों पर हम इस लेख के अंदर विस्तार से चर्चा करने वाले हैं।

‌‌‌आमतौर पर महिला पेट से होने के बाद से ही उसके स्थनों के अंदर दूध का निर्माण

शूरू हो जाता है। और यह दूध बाद मे जब वह बच्चे को जन्म देती है तो अपने बच्चे को पीलाती है। उसी के लिए यह होता है। ‌‌‌आमतौर पर जब दूध का निर्माण शूरू होता है तो महिला के स्थन भारी होने लगते हैं और कई बार उनके अंदर दर्द भी होता है।

राफाएला लांप्रोउ नामक एक महिला उस वक्त सुर्खियों के अंदर आई जब उसने फेसबुक पर 500 लिटर अपना दूध बेचने का दावा किया । इस महिला ने बताया कि जब उसके बच्चे का जन्म हुआ तो उसको काफी मात्रा के अंदर दूध था। पहले तो वह उस दूध को दान कर देती थी। ‌‌‌लेकिन बाद मे उसे पता चला की महिला के दूध की भी बाजार मे अच्छी मांग है। खास कर जो बॉडी बनाने के इच्छुक होते हैं उनको यह दूध फायदा पहुंचाता है। ‌‌‌महिला ने बताया की उसने खुद का दूध बेचकर 4 लाख रूपये तक कमा लिए हैं।

‌‌‌‌‌‌पत्नी का दूध पीने के फायदे  कैंसर से लड़ने मे सक्षम

कैंसर एक खतरनाक बिमारी है। जिसका यदि समय पर उपचार नहीं करवाया जाए तो यह इंसान की जान भी ले सकती है। लेकिन ऐसा माना जाता है की महिला के स्तन का दूध कैंसर से लड़ने मे सक्षम होता है। स्तन के दूध के अंदर हेमलेट नामक एक तत्व होता है जोकि कैंसर कोशिकाओं पर हमला करता है। ‌‌‌और उनको नष्ट करता है। 40 विभिन्न प्रकार के टयूमर के लिए यह फायदे मंद है। इस तरह से पत्नी का दूध पीने का फायदा कैंसर से लड़ने मे भी है। यह कैंसर अनुसंधान भी साबित कर चुका है।

‌‌‌यह अच्छे संबंध बना सकता है

अमतौर पर पत्नी का दूध एक पति सीधे उसके स्तन से भी पी सकता है। हालांकि यह बात आपको कुछ अजीब लगती है। लेकिन कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अपनी पत्नी का दूध सीधे उसके स्तन से ही पी लेते हैं। इसका एक फायदा यह भी है कि इससे रिलेशन मजबूत बनते हैं। और दोनों के बीच प्यार का ‌‌‌विकास होता है।यह सब कुछ वैसे ही होता है। जैसे मां अपने बच्चे को दूध पिलाती है। हालांकि वैसे पत्नी का दूध सीधे उसके स्तन से पीना बहुत से लोगों को बुरा लग सकता है। और मुझे भी यह सब बुरा लगता है। लेकिन इस बुरे के अंदर भी हम अच्छाई को नजरअंदाज नहीं कर सकते।

‌‌‌पत्नी का दूध पीने के फायदे  गठिया के लिए फायदे मंद

ऐसा तो आप जानते ही हैं कि डॉक्टर हमेशा एक बच्चे को स्तन का दूध ज्यादा से ज्यादा पिलाने की सलाह देते हैं। क्योंकि इस दूध के अंदर जो चीजे होती हैं वह बाहर के दूध के अंदर नहीं होती हैं।स्तन के दूध के अंदर लैक्टोफेरिन नामक तत्व होता है। ‌‌‌जोकि बच्चों के अंदर प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए रखने मे मदद करता है। लेकिन यही तत्व बच्चोंके साथ साथ एडल्ट लोगों के लिए भी फायदे मंद होता है। लैक्टोफेरिन  गठिया के उपचार मे काफी यूजफुल होता है।

‌‌‌पत्नी का दूध पीने के लाभ मधुमेह के ईलाज मे

स्तनों का दूध मुंहासे , कोलाई संक्रमण, और गले की खराश के लिए ही उपयोगी नहीं होता है। वरन यह बड़ी बिमारियों जैसे मधुमेह के लिए भी उपयोगी है।ऐसा माना जाता है की स्तन   का दूध ब्रेस्टमिल्क स्टेम कोशिकाओं से जुड़ा हुआ है। और स्टेम कोशिकाओं  का प्रयोग मधुमेह के उपचार के अंदर ‌‌‌किया जाता है। ‌‌‌वैसे देखा जाए तो स्तनों का दूध मधुमेह का आश्चर्यजनक ईलाज है।

क्रोहन रोग के उपचार मे

क्रोहन एक प्रकार की बिमारी है जो पाचन तंत्र के अंदर होती है। यह आंतों के अंदर एक तरह का सूजन है जो जीवाणुओं के द्वारा शूरू किया जाता है। ‌‌‌हालांकि यह एक दूर्लभ बिमारी है जिसका कोई ईलाज नहीं है। ऐसा माना जाता है की क्रोन या क्रोहन बिमारी के उपचार के अंदर महिला का दूध फायदे मंद होता है। CD14 एक स्पैसल प्रकार का प्रोटीन है जिसका प्रयोग क्रोन रोग से लड़ने मे किया जाता है। शोध कर्ताओं का मानना है कि यह प्रोटीन महिला के दूध मे पाया जाता है। क्रोन रोग से लड़ने के लिए भी पत्नी का दूधपीना फायदेमंद है।

पत्नी का दूध पीने के फायदे  कोलाई से लड़ने मे सक्षम

कोलाई एक प्रकार का बैक्टिरिया होता है। जोकि मनुष्य के व जीवों के शरीर मे हमेशा रहता है। लेकिन कई बार इसकी कुछ बुरी प्रजाति मनुष्य के गुर्दे को विफल कर देती है। और इससे मौत भी हो जाती है। ‌‌‌एक वैज्ञानिक प्रयोग के अनुसार स्तन का दूध चूहों और सूअरों के अंदर ई कोलाई को मारने मे सक्षम है। और इस वजह से इसका प्रयोग इंसानों पर भी किया जा सकता है। महिला का दूध इंसानों के शरीर से भी ई कोलाई को खत्म करता है।

‌‌‌गले मे खराश

आमतौर पर बच्चे के गले मे जब खराश होती है तो स्तन का दूध पिलाने से उसके गले की खराश चली जाती है। लेकिन यदि यही दूध वयस्क पीते हैं तो उनके गले की खराश भी खत्म हो जाती है। तो यदि किसी के गले मे खराश रहती है तो उसे अपनी पत्नी का दूध पीना चाहिए ।

मुँहासे के उपचार मे

वैसे यह मानना थोड़ा कठिन है कि स्तन का दूध मुंहासे के उपचार मे मदद करता है। लेकिन यह भी सच है।जिन किशोरों को मुंहासे की समस्या है उनको स्तनों का दूध पीना चाहिए। कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के अंदर हुए एक रिसर्च के अनुसार स्तनों का दूध मुंहासे का उपचार कर सकता है। स्तनों के दूध मे लॉरिक एसिड होता है जो मुंहासे को खत्म करता है। मुंहासे खत्म करने के लिए दूध को पूरे चेहरे पर भी लगा सकते हैं। जिससे फायदा होता है।

‌‌‌वजन बढ़ाने के लिए उपयोगी

दुनिया के अंदर कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपना वजन बढ़ाने की कोशिश मे लगे हुए हैं। आपको बतादें कि जिन लोगों को अपना वजन बढ़ाना हो उन्हें महिला का दूध पीना चाहिए ।यह जिस तरह से बच्चों का वजन बढ़ाने के लिए उपयोगी माना जाता है।‌‌‌उसी तरह से वयस्कों का वजन बढ़ाने के लिए भी उपयोगी है। तो पत्नी का दूध पीने का एक फायदा वजन बढ़ाने मे उपयोगी भी है।

‌‌‌बॉडी बनाने के लिए

पत्नी का दूध पीने के फायदे मे एक बॉडी बनाना भी शामिल है। बहुत से लोग स्तनों का दूध बॉडी बनाने के लिए भी पीते हैं। ऐसा माना जाता है की स्तनों के दूध के अंदर मांसपेशियों को मजबूत बनाए रखने की क्षमता होती है।‌‌‌इसके अलावा स्तनों के दूध के अंदर गाय के दूध से अधिक उपयोगी तत्व होते हैं। इस वजह से जिन लोगों को बॉडी बनानी है उनको स्तनका दूध पीना काफी फायदे मंद माना जाता है।

‌‌‌एनर्जी बढ़ाने के लिए

स्तनों का दूध बच्चों के अंदर एनर्जी को बढ़ाता है। लेकिन यह वयस्कों के अंदर भी एनर्जी को बढ़ाने का काम करता है।अब लोग इस बारे मे भी अधिक जागरूक होने लगे हैं। और स्तन के दूध को भी महत्व देने लगे हैं। स्तनों का दूध विटामिन और प्रोटीन से भरपूर होता है।‌‌‌यह बिल्कुल गाय की दूध की तरह होता है।

‌‌‌दोस्तों यह तो वे बातें थी जिन पर लोगों को कुछ विश्वास है। लेकिन आइए यह भी जान लेते हैं कि विज्ञान क्या कहता है। इस संबंध मे ।

‌‌‌पत्नी का दूध पीने के फायदे और विज्ञान

जैसा कि हम सभी जानते हैं की स्तन का दूध बच्चे के लिए बहुत फायदे मंद होता है। लेकिन विज्ञान का कहना है कि जो फायदा स्तन का दूध बच्चों को देता है। ‌‌‌वह जरूरी नहीं है कि वयस्को को ही दे।‌‌‌वैसे देखा जाए तो अभी तक वैज्ञानिक इस संबंध मे कुछ खास रिसर्च नहीं कर पाए हैं। और विज्ञान ने इसका खुलकर समर्थन भी नहीं किया है।विशेषज्ञों  का मानना है कि स्तनों का दूध शिशुओं के लिए होता है न की मानव के लिए। फिर भी कुछ लोगों को यह लगता है कि यह पोषक तत्वों से भरपूर है और जिम मे यह‌‌‌फायदा पहुंचा सकता है।न्यूयॉर्क पत्रिका  को एक व्यक्ति ने बताया कि उसे इससे अविश्वसनिए उर्जा मिलती है जो किसी और चीज से नहीं मिलती है।कई बॉडी बिल्डरों ने इसके फायदे का भी जिक्र किया है। अब यह एक व्यवसाय भी बनता जा रहा है।OnlyTheBreast.com जैसी वेब साइट ‌‌‌ब्रेस्ट मिलक को बेच रही हैं।

‌‌‌वैसे तो आप ऑनलाइन स्तन का दूध खरीद सकते हैं। लेकिन अधिकतर डॉक्टरों की राय माने तो उनका कहना है कि स्तन का दूध एक एडल्ट के लिए कोई खास फायदा नहीं करता है।ऐसा एक आम दावा है कि स्तन के दूध के अंदर गाय के दध से अधिक प्रोटीन होता है। लेकिन यह बात एक अडल्ट के लिए लागू नहीं होती है।

द जर्नल ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी मे प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार स्तन का दूध कोई खास फायदे मंद नहीं है। इस रिपोर्ट के अंदर डॉक्टरों ने लिखाकि जी हां, स्तन का दूध शिशुओं के लिए पौष्टिक लाभों से भरा होता है।प्रोटीन, वसा, विटामिन और कार्बोहाइड्रेट का अच्छा संयोजन होता है। लेकिन ‌‌‌यह बात वयस्कों के उपर सटीक नहीं बैठती है।डॉक्टरों ने लिखा कि एक बच्चे के पाचन तंत्र के लिए यह दूध सही होता है। लेकिन एक वयस्क के लिए सही नहीं होता है।

‌‌‌इसके अलावा जो मिलाएं स्तनों का दूध ऑनलाइन बेचती हैं उनके बारे मे सही सही जानकारी नहीं होती है। जैसे यदि वे नशीली दवाओं का सेवन करती हैं तो यह स्तनों का दूध नुकसान भी कर सकता है।CBS News  की एक रिपोर्ट के अनुसार उसके द्वारा ऑनलाइन बेचे जा रहे स्तनों के दूध के 102 नमूनों मे से 11 गाय के दूध के साथ मिले हुए थे ।रिसर्च के अंदर यह भी पाया गया कि ऑनलाइन बेचे जा रहे स्तनों के दूध के अंदर कई अशुदियां हो सकती हैं।हेपेटाइटिस, एचआईवी और सिफलिस  जैसे रोगों के जीवाणू भी हो सकते हैं।

‌‌‌हालांकि स्तन के दूध के अंदर एचएएमएलईटी  जैसे तत्व मिले हैं जोकि वयस्कों को फायदा दे सकते हैं। लेकिन अभी भी रिसर्च परिक्षण के दौर मे है। इस वजह से वैज्ञानिक अभी स्तन के दूध का यूज करने की सलाह वयस्कों को नहीं दे रहे हैं।

1995, स्वीडन में लुंड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने नई एंटीबायोटिक दवाओं की तलाश करते हुए  एक खोज की थी। वे मानव दूध के अंदर एक प्रोटीन को बदलकर एचएएमएलईटी नामक तत्व का निर्माण कर रहे थे । जो कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने के लिए उपयोगी था।कई पशु अध्ययनों में एचएएमएलईटी के ट्यूमर से लड़ने वाले प्रभावों का प्रदर्शन किया गया है। यह चूहों में ब्रेन ट्यूमर, पेट के कैंसर और मूत्राशय के कैंसर को कम करते हुए दिखाया गया था।

‌‌‌हालांकि कुछ प्रेसवालों ने इसको गलत तरीके से प्रचारित किया और लोगों को ‌‌‌लगा कि महिला का दूध कैंसर का ईलाज कर सकता है। ‌‌‌बहुत से लोग अपनी बिमारी को ठीक करने के लिए भी इस दूध की मांग कर रहे हैं तो कुछ लोग यह विश्वास करते हैं कि यह प्रोटीन से भरपूर होता है।जबकि कुछ लोग यह भी सोचते हैं कि यह प्रतिरक्षा को भी बढ़ाता है। लेकिन इसमे से अधिकांश जानकारी गलत है।

‌‌‌आपको बतादें कि स्तनों का दूध ऐसे ही कैंसर के उपचार मे कारगर नहीं होता है। वरन इसमे प्रोटीन बदलने की आवश्यकता होती है।स्तन के दूध मे  केवल अल्फा-लैक्टलबुमिन प्रोटीन है लेकिन एचएएमएलईटी नहीं है। इसके लेब मे बनाया जाता है।

‌‌‌पत्नी का दूध पीने के फायदे अंतिम वर्ड

उपर हमने वैसे तो पत्नी का दूध पीने के कई फायदे गिनाए हैं। लेकिन उनमे से अधिकतर मात्र एक दावे हैं। उनमे पूरी सच्चाई नहीं है।इसके अलावा आपको बतादें की जो ऑनलाइन महिला का दूध लेकर पीते हैं वे कई प्रकार के जोखिम मे फंस सकते हैं। ‌‌‌कई संक्रामक बिमारियां जैसे एचआईवी भी फैल सकती हैं। और ऑनलाइन दूध का परीक्षण भी नहीं होता है।साइटोमेगालोवायरस आपको नुकसान पहुंचा सकता है। क्योंकि कई लोग इससे संक्रमित होते हैं। जिससे दिमाग पर सूजन आ सकती है। ‌‌‌कुल मिलाकर हम यह कह सकते हैं कि महिला या पत्नी का दूध पीने के फायदे कोई खास नहीं हैं हां वैज्ञानिक इससे अच्छा पदार्थ तैयार कर सकते हैं।जो वयस्क के लिए उपयोगी हो ।

पत्नी का दूध पीने के फायदे लेख आपको कैसा लगा ?

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *