पढ़ाई करने के 7 नियम जो हर सक्सेस स्टूडेंट फोलो करते हैं top 7 study rules

हर स्टूडेंट का एग्जाम के अंदर अच्छे मार्क्स लाने का सपना होता है। लेकिन बहुत से स्टूडेंट अच्छे मार्क्स नहीं ला पाते हैं। इस लेख मे हम आपको पढाई करने के नियम के बारे मे बताने वाले हैं। जिनको फोलो करके आप अच्छे मार्क्स प्राप्त‌‌‌कर सकते हैं। यह आपको पढ़ाई के नियम बताने वाले हैं। वे हर टॉपर फोलो करते हैं और एग्जाम के अंदर अच्छे मार्क्स प्राप्त करते हैं। यदि आप इनका अच्छे से फोलो करते हैं तो मैं यकीन के साथ कह सकता हूं ।आप अच्छे मार्क्स अवश्य ही प्राप्त करलेंगे ।

पढ़ाई करने के 7 नियम

‌‌‌ पढ़ाई का 1 ‌‌‌नियमरेगुलर स्टड़ी regular study

 

आप किसी भी टॉपर स्टूडेंट की दिनचर्या को देखेंगे तो आपको रेगूलर स्टड़ी का नियम अवश्य ही मिल जाएगा । मतलब हर टॉपर स्टूडेंट रेगूलर स्टड़ी करता है। वह ऐसे नहीं करता है कि पहले मजे करता है। उसके बाद जब परीक्षा सर पर आ जाती है तो फिर किताब लेकर बैठता है। ‌‌‌

 

जब आप रेगूलर स्टड़ी करेंगे तो आपको चीजें याद होती चली जाएंगी । और एग्जाम समय तक आपको लगभग सारी किताबें याद हो जाएंगी । रेगूलर स्टड़ी नहीं करने के कई सारे नुकसान होते हैं। यदि आप कलाश के अंदर कमजोर हैं और उपर से रेगूलर स्टडी भी नहीं कर रहे हैं तो आप और कमजोर होते चले जाएंगे ।‌‌‌सो पढाई का पहला नियम याद रखें रेगूलर स्टड़ी अवश्य करें । यदि आप सक्सेस होना चाहते हैं।

 

पढ़ाई का 2  नियम  ‌‌‌चीजों को समझना understanding concept

 

हर होशियार स्टूडेंट हमेशा चीजों को समझकर पढ़ता है। मतलब वह हर चीज को अपने दिमाग के अंदर बिठा लेता है। जिसकी वजह से वह उसे आसानी से भूल नहीं पाता है। रेगूलर पढ़ाई करने का उसका मकसद यह भी होता है कि वह आसानी से चीजों को समझ सके । यदि आप रटन विधा का प्रयोग करते हैं तो ‌‌‌आपको याद करने मे तो समस्या तो हो ही रही होगी । लेकिन एग्जाम टाइम के अंदर आपको भूलने की समस्या भी आपके साथ होगी । लेकिन यदि आप चीजों को समझ रहे हैं तो आपको अधिक समय तक चीजें याद रहेगी । और कन्फयूजन भी कम होगा । ‌‌‌आप एक बार चीजों को तर्क के साथ समझकर देंखे । यकीन मानिए आप उनको अधिक समय तक नहीं भूलेंगे । समझना इसी को कहा जाता है। तो पढ़ाई का दूसरा नियम याद रखें चीजों को समझकर याद करना

 

‌‌‌ पढ़ाई का 3  नियम  अपने बेस मे continue improvements

 

‌‌‌किसी भी पेड़ की जड़ें जितनी मजबूत होती हैं। वह पेड़ उतनी ही द्रढता के साथ आंधी तूफान के अंदर खड़ा रहता है। ठीक उसी तरह से जिस स्टूडेंट का बेस अच्छा होगा । वह अच्छे मार्क्स तो प्राप्त करेगा ही । एक होशियार स्टूडेंट की खास बात यह होती है कि वह हर विषय के अंदर होशियार होता है। ‌‌‌इसकी वजह होती है ।

 

उसको हर विषय की बेसिक चीजें क्लियर होती हैं। हम लोग पढ़ने मे कमजोर क्यों रह जाते हैं क्योंकि हम एक कक्षा की चीजें दूसरी कक्षा के अंदर जाकर सीखने की कोशिश करते हैं । जब हमे बहुत आवश्यकता पड़ जाती है। और इस तरह से हम और पीछड़ते चले जाते हैं। ‌‌‌सो जो चीज जिस कक्षा की है उसको उसी मे सीखने की कोशिश करें । जिससे आपका बेस अच्छ बन जाएगा । तो पढ़ाई का तीसरा नियम याद रखें अपने बेस के अंदर सुधार करना ।

 

 

‌‌‌ पढ़ाई का 4  नियम  मन लगाकर पढ़ाई करना

पढ़ाई करने के 7 नियम

हर सक्सेस स्टूडेंट इस नियम को फोलो करता है। आप किसी भी अच्छे और होशियार स्टूडेंट को जानते हैं तो आपको पता होगा कि उसकी याद करने की क्षमता काफी बेहतर है। ऐसा क्यूं होता है? क्या आपने कभी इस बारे मे सोचा ? ‌‌‌मनौवेज्ञानिक रिसर्च के अंदर यह साबित हो चुका है कि जब कोई स्टूडेंट मन लगाकर पढ़ाई करता है। तो उसकी स्मरण शाक्ति के अंदर बढ़ोतरी हो  जाती है। ठीक ऐसा ही यहां पर होता है। ‌‌‌यदि आप एग्जाम के अंदर अच्छे मार्क्स लाना चाहते हैं तो  आपको पढ़ाई मन लगाकर करनी होगी । क्योंकि मन से किया गया काम ज्यादा सफल होता है। इसपर हम बेमन से किये कार्य की तुलना मे ज्यादा फोक्स करते हैं। इसी वजह से इसमे हम काफी बेहतर कर पाते हैं।

‌‌‌ पढ़ाई का 5  नियम  मैंन पॉंइट पर फोक्स करना

कम समय मे अधिक चीजें याद करने का यह एक अच्छा तरीका है। चीजों के मैंन पॉंइट पर फोक्स करना ।हर होशियार स्टूडेंट हर प्रश्न के उत्तर के मैंन पॉंइट पर फोक्स करता है। मतलब वह कचरे के अंदर उलझने की कोशिश नहीं करता है। वरन मैंन पॉइट को पकड़लेता है। जैसे कई बार ‌‌‌आपको डीसी करंट के बारे मे बताना होता है ।ऐसी स्थिति के अंदर आपको डीसी करंट के बारे मे बताना होता है। वो भी सोर्ट के अंदर न की उसकी संरचना के बारे मे । मतलब जो चीजें आवश्यक है वे ही याद करें बाकी नाकरें ।

 

 

‌‌‌ पढ़ाई का 6  नियम  टाइम टेबल बनाकर पढ़ना

 

हर स्टूडेंट को टाइम टेबल बनाकर पढ़ाई करनी चाहिए । बहुत से स्टूडेंट जब आधा सत्र बीत जाता है तो फिर टाइम टेबल बनाते हैं। जोकि वास्तव मे गलत है। आपका सत्र शूरू होने के तुरन्त बाद ही आपको टाइम टेबल बना लेना चाहिए । और उसी के अनुसार पढ़ाई करनी चाहिए । ‌‌‌टाइम टेबल बनाने के कई सारे फायदे हैं। सबसे पहला फायदा तो यही है कि हम अपनी दिनचर्या को व्यवस्थित करते हैं। और हर काम के लिए अपना टाइम फिक्स कर देते हैं। इसकी वजह से हम अपने समय का अच्छे से उपयोग कर पाते हैं। ‌‌‌सो यह नियम भी जरूर फोलो करें ।

 

पढ़ाई का  7 नियम  ‌‌‌रूचि पैदा करें

 

यदि हम टॉपर स्टूडेंट की बात करें तो वे मजे ले कर पढ़ाई करते हैं।वैसा ही मजा जैसा आप अपनी गर्लफ्रेंड के साथ घूमकर हाशिल करते हों । यह आपको अजीब लग रहा है। लेकिन यह सच है कुछ लोगों के अंदर पढ़ने मे काफी रूचि होती है। ‌‌‌यही वजह होती है कि वे जल्दी से पढ़ाई करते करते उब नहीं पाते हैं। लेकिन जिन स्टूडेंट की पढ़ने मे रूचि नहीं होती है। वे बहुत जल्दी पढ़ने से उब जाते हैं। यही वजह है कि वे अच्छे से पढ़ नहीं पाते हैं। और बिना रूचि उनका मन भी पढ़ाई मे नहीं लगता है।

 

‌‌‌यदि आप अच्छे से पढ़कर कामयाब होना चाहते हैं तो यह नियम भी फोलो करें

दोस्तों हम आसा करते हैं कि आपको यह लेख पसंद आया होगा ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *