चाय पीने के 17 नुकसान most side effect of drinking tea

चाय का प्रयोग आजकल दुनिया के हर देशों के अंदर किया जाता है। और भारतिए लोग तो चाय के बिना रह ही नहीं सकते । चाय आज कल हमारी जिंदगी का अहम अंग बन चुकी है। हम भारतिय लोग सुबह उठते ही चाय पीते हैं। और वह भी खाली पेट । ‌‌‌चाय पीना वैसे देखा जाए तो एक तरह से परम्परा ही बन चुका है। चाय के जहां पर अपने फायदे हैं। वहीं चाय पीने के कई नुकसान tea ke nuksan भी हैं। इस लेख के अंदर हम चाय पीने के नुकसान के बारे मे बात करने वाले हैं । ‌‌‌रिसर्च बताते हैं कि आपको प्रतिदिन केवल 4 कप ही चाय पीनी चाहिए । यदि आप इससे ज्यादा चाय पीते हैं तो आपको यह बहुत नुकसान पहुंचा सकती है। यदि आप भी ज्यादा चाय पीने के आदी हैं तो अपनी इस आदत को सुधार लिजिए नहीं तो नुकसान हो सकता है।

‌‌‌इसके अलावा चाय की गुणवता भी काफी महत्वपूर्ण होती है। यदि आप एक बढिया दूध वाली चाय को दिन मे 4 बार पीते हैं तो वह आपको कम नुकसान करेगी । लेकिन यदि आप खराब चाय को दिन मे 4 बार पीते हैं तो वह आपको बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाएगी । ‌‌‌जब आप चाय पी ही रहे हैं तो आपको चाहिए कि कम पिए लेकिन एक अच्छी चाय पियें जो आपको फायदा भी देगी ‌‌‌आइए जानते हैं चाय पीने के नुकसान के बारे मे

‌‌‌चाय पीने के नुकसान tea ke nuksan

। ‌‌‌हाल ही के अंदर हुए एक रिसर्च के अनुसार भारत के अंदर 90 प्रतिशत लोग सुबह उठकर चाय पीते हैं। और इसमे से अधिकतर लोग खाली पेट ही चाय पीते हैं। जो काफी नुकसान पहुंचाती है। चाय के अंदर कैफीन और एल-थायनिन, थियोफाइलिन जैसे रासायन होते हैं। जो नुकसान पहुंचाते हैं।

‌‌‌हार्वर्ड हेल्थ पब्लिकेशंस के मुताबिक यदि आप बढ़िया चाय पीते हैं तो यह आपको कई सारे फायदे भी पहुंचा सकती है।जैसे मूड के अंदर सुधार करना , दिल की बिमारी को दूर कर सकती है।मजबूत हड्डियों को बनाने मे भी उपयोगी है।‌‌‌लेकिन यदि आप एक घटिया क्वालिटी की चाय पीते हैं तो यह आपको फायदे का दुगुना नुकसान कर सकती है।

1.tea ke nuksan लौह अवशोषण की समस्या

आपको पता होगा कि लौह हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक तत्व होता है। यह लाल रक्त कोशिकाओं को शरीर के सभी हिस्सों के अंदर ऑक्सिजन परिवहन मे मदद करता है। और उर्जा उत्पादन मे भी मदद करता है।लौह की कमी से शरीर के अंदर निरंतर थकान होती है। जब हम असमय ही चाय पीते हैं तो इससे हमारे शरीर को लौह अवशोषण मे समस्या आती है। रिसर्च बताते हैं कि भोजन के बीच मे चाय पीनी चाहिए । खाली पेट भी चाय नहीं पीनी चाहिए।‌‌‌जब आप बिना दूध वाली चाय पीते हैं तो यह आपके शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाती है। यह आपके शरीर से लौह तत्व को अवशोषित करने मे भी बाधा पैदा करती है।

2. दाँत दाग

चाय पीने से सबसे ज्यादा जो समस्या आती है। वह दांत खराब हो जाने की होती है। जब आप चाय पीने के बाद कूल्ला नहीं करते हैं तो चाय के कण आपके दांतों से चिपक जाते हैं। और इस तरह से धीरे धीरे आपके दांतो पर लाल दाग बन जाते हैं। ‌‌‌इसलिए इस परेशानी से बचने के लिए आपको चाय पीने के बाद हमेशा कूल्ला जरूर कर लेना चाहिए।

‌‌‌3. शुगर की समस्या

आमतौर पर जो लोग चाय पीते हैं। उनको सबसे अधिक शुगर की समस्या हो जाती है। जब हम चाय पीते हैं तो बहुत बार ऐसा होता है कि चीन बहुत ज्यादा गिर जाती है। मान ले कि आप प्रतिदिन 4 कप चाय पीते हैं और आप अधिक चीनी के साथ चाय लेते हैं।‌‌‌ऐसी स्थिति के अंदर आपका शुगर का स्तर गड़बड़ा सकता है।इस वजह से चाय के अंदर हमेशा कम चीनी का ही प्रयोग करें ।चीन को नाप कर ही चाय मे डाले । अधिक चीनी गिर गई है तो चाय को नहीं पीयें।

‌‌‌4. चाय पीने के नुकसान कैफीन की समस्या

चाय के अंदर कैफीन होता है। वैसे तो कैफीन फायदे मंद होता है। लेकिन यह भी एक लिमिट तक ही फयदा पहुंचाता है। यदि आप अधिक मात्रा के अंदर चाय पीते हैं। तो कैफीन आपके लिए समस्या बन सकता है। ‌‌‌कुछ लोग ऐसे भी होते हैं। जिनको कैफीन सूट भी नहीं करता है। जैसे दिल की बिमारी वाले लोगों को चाय नहीं पीनी चाहिए।

‌‌‌5. पेट की समस्याएं पैदा होना

चाय पीने से कई सारी पेट की समस्याएं भी पैदा हो सकती हैं। जैसे पेट के अंदर दर्द होना खटटा स्वाद की समस्या भी पैदा हो सकती है। गैस्ट्रोसोफेजियल रीफ्लक्स बीमारी  भी हो सकती है। जिसके होने पर आपको और अधिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। ‌‌‌हालांकि यह सब अधिक चाय पीने से होता है।

‌‌‌6. चाय पीने के नुकसान एल्यूमीनियम

चाय के अंदर एल्यूमीनियम होता है। जोकि सामान्य मात्रा से अधिक चाय पीने से नुकसान पहुंचा सकता है। चाय के अंदर अधिक मात्रा के अंदर एल्यूमीनियम का होना अल्जाइमर रोग पैदा कर सकता है। हालांकि सन 2013 के अंदर हुए रिसर्च के अंदर यह अनुमान लगाया गया है।

7. फ्लोराइड की समस्या

आपको बता दें कि चाय की पतियों के अंदर फ्लोराइड होता है। चाय के पौधे फ्लोराइड को अन्य पौधों की तुलना मे जल्दी अवशोषित कर लेते हैं। यदि जहां पर चाय के पौधे उगाये जाते हैं। वहां पर फ्लोराइड की मात्रा अधिक है तो चाय के पतों मे भी इसकी मात्रा अधिक हो जाती है।‌‌‌हालांकि मसीनी कटाई की तुलना मे हाथ से उठाये गए पतों के अंदर कम फ्लोराइड होता है। सन 2013 के अंदर 38 प्रकार के चाय के ब्रिटिश अध्ययन के अंदर पाया गया की सस्ता यूके सुपरमार्केट चाय मिश्रणों में प्रति किलो लगभग 580 मिलीग्राम फ्लोराइड का उच्चतम स्तर था, हरी चाय का औसत लगभग 3 9 7 मिलीग्राम प्रति किलो और शुद्ध मिश्रण लगभग 132 मिलीग्राम प्रति किलो था।

‌‌‌यदि आप प्रतिदिन 3  मिलीग्राम फ्लोराइड से अधिक फ्लोराइड का सेवन करते हैं तो यह आपको नुकसान पहुंचा सकता है।‌‌‌आपको बतादें कि अधिक मात्रा के अंदर फ्लोराइड लेने से  फ्लोरोसिस नामक रोग हो जाता है। और इससे विकलांगता भी पैदा हो सकती है।

8.oxalates

चाय के अंदर oxalates होता है। यदि अधिक मात्रा के अंदर आप चाय का सेवन करते हैं तो आपके गुर्दे विफल हो सकते हैं। और इससे गुर्दे की पत्थरी भी पड़ सकती है। हालांकि चाय के अंदर ऑक्सालेट की मात्रा कम होती है। जिससे यह प्रभाव केवल अधिक चाय पीने वालों पर ही पड़ता है।

9. मूत्रवर्धक की समस्या

चाय के अंदर कैफीन होता है। यदि आप अधिक मात्रा के अंदर चाय पीते हैं तो इससे आपके अधिक पेशाब आता है। और आपको बार बार पेशाब करने जाना पड़ता है।  यह समस्या अक्सर उन लोगों के साथ अधिक होती है। जो अधिक चाय पीते हैं।

‌‌‌10. चाय पीने के नुकसान भूख को खत्म कर देती है

आपने इस बात को महसूस किया होगा कि कई बार जब आप को तेज भूख लगी होती है और आप चाय पी लेते हैं तो इससे आपकी भूख मर जाती है। और उसके बाद आप खाने बैठते हैं तो आपको अधिक खाना नहीं भाता है। ‌‌‌भूख लगी होने पर चाय का सेवन नहीं करना चाहिए । इससे आपकी सेहत पर प्रतिकूल असर पड़ता है। और रोजाना ऐसा करने पर आपकी भूख स्थाई रूप से कम हो जाती है। और आप दुबले पतले हो सकते हैं।

11. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल की परेशानी

वैसे देखा जाए तो चाय को एक अच्छा पेय माना जाता है। लेकिन यदि आप अधिक मात्रा के अंदर चाय पीते हैं तो आपके पेट मे गैस की समस्या और मितली आना सबसे आम समस्याओं मे से एक हैं। इसके अलावा गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल अप्ससेट समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

12. गर्भावस्था मे नुकसानदायक

अमेरिकन कॉलेज ऑफ़ ओबस्टेट्रिकियंस एंड गायनोलॉजिस्ट्स के रिसर्च के अनुसार गर्भावस्था के अंदर कैफिन की अधिक मात्रा बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती है। प्रतिदिन 200 मिलिग्राम से अधिक कैफिन से गर्भपात का खतरा बढ़ जाता है। इस वजह से गर्भवति महिलाओं को कम से कम चाय पीनी ‌‌‌चाहिए।

‌‌‌13. अनिंद्रा और पाचन समस्याएं

ब्लैक टी यदि आप अधिक मात्रा के अंदर लेते हैं। तो यह आपके लिए यह बहुत अधिक नुकसानदायक होती है। अधिक मात्रा मे काली चाय के अंदर मौजूद कैफिन आपके पाचन तंत्र को उत्तेजित कर सकता है। जिससे आपको दस्त लग सकते हैं। ‌‌‌इसके अलावा काली चाय पीने से आपको अनिंद्रा और पाचन की समस्याएं भी पैदा हो सकती हैं।

14. esophageal cancer

सन 2008 के अंदर हुए एक रिसर्च के अनुसार अधिक गर्म चाय पीने से esophageal cancer का खतरा बढ़ जाता है। रिसर्च के अनुसार जिन लोगों ने चाय उड़ेलने के 3 मिनट के अंदर चाय पी ली थी । उनको इसका खतरा होता है। ‌‌‌अधिक होता है। जबकि चाय उड़ेलने के 4 मिनट बाद जो लोग चाय पीते हैं। उनको इसका खतरा कम होता है।

15. हड्डियों को नुकसान

अधिक चाय पीने से आपकी हड़ियों को भी नुकसान पहुंचता है। ऐसे अनेक लोग हैं जो इस बात के गवाह हैं।न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन के अंदर एक ऐसी 47 वर्षिय महिला का वर्णन किया गया है। जिसके अधिक चाय पीने से हडियां भंगूर हो गई थी। ‌‌‌और उसने अपने सारे दांत भी खो दिये थे ।

16. प्रोस्टेट कैंसर का खतरा

ग्लासगो विश्वविद्यालय के अंदर हुए एक रिसर्च के अनुसार अधिक चाय पिने से प्रोस्टेट कैंसर भी पैदा हो सकता है। रिसर्च के अनुसार जो लोग रोजाना 6 कप से अधिक चाय पीते हैं उनको प्रोस्टेट कैंसर का खतरा 50 प्रतिशत अधिक बढ़ जाता है। ‌‌‌हालांकि जो लोग दो या तीन कप ही चाय  पीते हैं। उनको इसकी संभावना कम होती है।

‌‌‌17. चाय की लत लगना

चाय के अंदर कैफीन होता है। जोकि एक नसे की तरह होता है। यदि आप रोजाना चाय पीते हैं तो आपको चाय पीने की लत लग जाती है। और जब आप किसी कारणवश चाय नहीं पीते हैं। तो कई प्रकार की समस्याएं पैदा हो सकती हैं सोने में कठिनाई, दिल की दर में वृद्धि, अवसाद, चिंता, आतंक हमलों, आदि शामिल हैं। ‌‌‌हालांकि लंबे समय तक यदि आप चाय पी रहे हैं और अब आप इसे छोड़ने की कोशिश करेंगे तो आपको यह समस्या हो सकती है। लेकिन यदि आप कभी क भार पी लेते हैं तो आपको कोई समस्या नहीं होगी।

‌‌‌चाय पीने के नुकसान side effects of tea final words

दोस्तों इस लेख को लिखने से पहले मैंने चाय पीने के नुकसान के बारे मे कई जगह पर पढ़ा । जहां तक मैं समझता हूं चाय के नुकसान नोर्मल हैं। यदि आप प्रतिदिन 4 कप चाय पीते हैं तो यह आपको फायदा देगी । ‌‌‌लेकिन यदि आप प्रतिदिन 4 कप से अधिक चाय पीते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक है। यही अनेकों रिसर्च के अंदर बताया जा चुका है। आपको एक अच्छी गुणवता वाली चाय पीनी चाहिए। ‌‌‌बाकि यदि हम चाय पीने के फायदों और नुकसान की बात करें तो हमको चाय पीने के फायदे ज्यादा नजर आएंगे । जबकि नुकसान कम नजर आएंगे । अंतिम बार हम यही कहना चाहेंगे कि चाय पीयो लेकिन कम पियो ।

tea ke nuksan  चाय पीने के नुकसान लेख आपको कैसा लगा कमेंट करके बताएं।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!