क्लोरोफॉर्म कैसे बनाएं अपने घर पर

आपको पता होगा कि क्लोरोफॉर्म को बेहोशी की दवा के नाम से भी जाना जाता है। वैसे यह बेचना इलिग्ल है। यदि आप क्लोरोफॉर्म बनाने के इच्छुक हैं तो इस लेख के अंदर हम आपको सरल विधि से समझा रहे हैं किंतु ध्यान रखें इसका गलत प्रयोग ना करें । और किसी भी लोस ‌‌‌और डेमेज के लिए हमारी वेबसाईट जिम्मेदार नहीं होगी । हमारा उदेश्य मात्र जानकारी देना है। जो यह एक्सपरीमेंट केवल विशेसज्ञ की सलाह मे ही करें ।

‌‌‌‌‌‌क्लोरोफॉर्म वास्तव मे एक घातक चीज है। और यदि यह किसी के गलत हाथों के अंदर पड़ जाए तो बहुत नुकसान पहुंचा सकता है। आपको यह तो पता ही है कि यह बेहोश करने की दवा है। जैसा कि  आप मूवी के अंदर देखते होंगे कि कोई चोर या अपराधी लोगों को बेहोश करके चोरी कर लेता है।‌‌‌इसी वजह से इसका निर्माण केवल जानकारी के उदेश्य से किया जाना चाहिए।क्लोरोफॉर्म  बनाने की अनेक विधियां हैं।

क्लोरोफॉर्म कैसे बनाएं

‌‌‌इसको बनाने के लिए आपको निम्न चीजों की आवश्यकता होगी ।

  1. pure Acetone and ice
  2. bleach
  3. glass container
  4. separation funnel
  5. black spectacle

‌‌क्लोरोफॉर्म बनाने की सामग्री

‌‌‌क्लोरोफॉर्म  बनाने के लिए आपको कई चीजों की आवश्यकता पड़ेगी ।

ब्लीच

दोस्तों ब्लीच के बारे मे आप जानते ही होंगे । घर के अंदर हम सभी ब्लीच का प्रयोग करते हैं। वैसे यह एक क्रीम होती है जिसका प्रयोग हम फेस पर लगाने के लिए भी करते हैं।

एसीटोन

एसीटोन जिसे फिंगर नेल पॉलिश रिमूवर या पेंट रिड्यूसर के नाम से भी जाना जाता है। हालांकि आपको इसके लिए शुद्व ऐसीटोन लेना होगा ।सौंदर्य प्रसाधन अनुभाग  से भी आप इसको खरीद सकते हैं। और आपको यह किसी पेंट स्टोर पर आसानी से मिल जाएगा ।

‌‌‌बर्फ

बर्फ तो घर के अंदर आपको आसानी से मिल ही  जाएगी । आप फ्रीज की बर्फ का प्रयोग कर सकते हैं। इसके

बड़े ग्लास कंटेनर

ग्लास कंटेनर की आवश्यकता भी होगी । जिसके अंदर आपको क्लोरोफॉर्म बनाना होगा । ग्लाश कंटेनर को आप ऑनलाइन खरीद सकते हैं। यह आपको आसानी से मिल जाएगा ।

पृथक्करण कीप

‌‌‌जब आप क्लोरोफॉर्म बना लेते हैं तो उसके अंदर कई सारी अशुद्वियां होती हैं। उन अशुद्वियों को अलग करने के लिए एक प्रथक्करण कीप की आवश्यकता होगी ।

‌‌‌एक मास्क

क्लोरोफॉर्म जब बनाया जाता है। तो इसके अंदर कई प्रकार की गैसे निकलती है। जो कि आपके दिमाग पर असर कर सकती हैं। और जिसकी वजह से आपको सिरदर्द पैदा हो सकता है। तो आपको एक मास्क भी खरीद लेना चाहिए।

‌‌‌क्लोरोफॉर्म बनाने की विधि . 1

  • क्लोरोफॉर्म बनाने के लिए आपको किसी भी खुले स्थान को चुनना चाहिए । जहां पर हवा आती जाती रहती हो किसी भी बंद स्थान को क्लोरोफॉर्म बनाने के लिए ना चुने ।
  • ‌‌‌सबसे पहले आपको एक ग्लास का बना कंटेनर लेना है। और उसके अंदर ब्लीच और बर्फ के टुकडे डाल देने हैं। क्लोरोफॉर्म बनाने के लिए अनुपात 1 भाग एसीटोन के लिए 50 भाग ब्लीच के लिए आवश्यक है। ब्लीच का प्रति कप 1 चम्मच एसीटोन है।
  • ‌‌‌कंटेनर के अंदर ब्लीच और ऐसीटोन व बर्फ के टुकड़े डाल देने के बाद इसका तापमान 85 डिग्री तक पहुंच जाता है। एक छड़ी की मदद से इस मिस्रण को हिलाएं ।मिश्रण तैयार हो जाने के बाद इसको एक घंटे तक ठंडा होने दें ।
  • ‌‌‌उसके बाद आप कंटेनर के अंदर नीचे की तरफ सफेद बादल से देखेंगे । यही क्लोरोफार्म है। और इसके अंदर 70 प्रतिशत तक क्लोरोफॉर्म की मात्रा होती है। यदि आप इसका प्रयोग इंसानों या जनवरों पर करना चाहते हैं तो इसको डिस्टिलर से शुद्व करने की आवश्यकता होगी ।

Chloroform कहां से खरीदें

काफी समय पहले ‌‌‌Chloroform  को अमेजन भी बेचती थी। लेकिन अब इसको वहां पर बेचना बंद कर दिया है। अमेजन पर दूसरी वेबसाइट की तुलना मे खरीददारी करना काफी आसान है। यदि अब आप ‌‌‌Chloroform  खरीदना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले https://www.indiamart.com ‌‌‌पर जाना होगा । यहां पर आपको कई वैराइटी के cloroforme आसानी से मिल जाएंगे । और यह आपको अलग अलग रेट के अंदर भी मिलेंगे । यहां पर लगभग 500 एमएल क्लोरोफॉर्म की कीमत 300 रूपये के आस पास है।

क्लोरोफॉर्म का असर टाइम ,क्लोरोफॉर्म का असर कितनी देर तक रहता है

क्लोरोफॉर्म  को बेहोशी की दवा के नाम से भी जाना जाता है। वैसे इसका प्रयोग इंडस्ट्री और डॉक्टर करते हैं। लेकिन बहुत से लोग इसका प्रयोग एक मजाक के रूप मे करते हैं। जब आप किसी को क्लोरोफॉर्म  सूंघाते हैं। और वह क्लोरोफॉर्म  सूंघ लेता है तो 15 से 20 सैकिंड के अंदर बेहोश हो ‌‌‌जाता है। और बेहोश होने से पहले उसे तीव्र कंपकंपी, गंभीर मतली और संभावित उल्टी से अधिक होते हैं। सिरदर्द भी हो सकता है। इसके अलावा उसके होश मे आने की बात करें तो एक व्यक्ति पर Chloroform का असर 30 मिनट से 2 घंटे तक रह सकता है।

क्लोरोफॉर्म का स्वाद कैसा होता है ?

क्लोरोफॉर्म के अंदर ईथर जैसी गंध और थोड़ा मीठा स्वाद होता है।यह प्राकृतिक रूप से पाया जाने वाला रासायन है लेकिन ज्यादातर क्लोरोफॉर्म मानव के द्वारा बनाया गया होता है। यह ट्राइहालोमेथेनेस समूह का सदस्य है और जल्दी वाष्पित हो जाता है।

‌‌‌क्या क्लोरोफॉर्म भारत मे ईलिगल है ?

दोस्तों आपकी जानकारी के लिए बतादें की दूसरे कई देशों की तरह क्लोरोफॉर्म भारत के अंदर भी इसके सर्वाजनिक बिक्री पर प्रतिबंध है। और इसका प्रयोग डॉक्टर और सर्जक करते हैं। और उधोगों के अंदर भी इसका यूज किया जाता है। क्लोरोफॉर्म को बैन करने का प्रमुख उदेश्य यह है कि अधिकतर अपराधी किस्म के लोग इसका गलत इस्तेमाल करते हैं। और कुछ लोग क्लोरोफॉर्म की मदद से लोगों को बेहोश करके उनका सामान लूट लेते हैं । अभी पिछले दिनों एक शिक्षक ने क्लोरोफॉर्म की मदद से एक 14 साल की बच्ची को बेहोश करके उसका रेप कर दिया था।

क्लोरोफार्म का इस्तेमाल कैसे करे

क्लोरोफार्म  का यूज कई जगह पर किया जाता है। और यदि आप यह जानना चाहते हैं कि क्लोरोफॉर्म का इस्तेमाल कैसे करें ? तो आइए जानते हैं। अमेरिकी युद्ध (1846-1848) के दौरान भी क्लोरोफॉर्म का इस्तेमाल किया गया था। डॉक्टरों का इसको इस्तेमाल करने का मकसद था कि दर्द को कम किया जा सके । क्लोरोफॉर्म का इस्तेमाल सर्जरी के अंदर होता है। रोगी की सर्जरी करनी हो तो उसे क्लोरोफॉर्म का इंजेक्सन दिया जाता है। या फिर रोगी को उसे सूंघाया ‌‌‌जाता है। उसके बाद रोगी बेहोश हो जाता है। और उसकी सर्जरी की जाती है।

क्लोरोफॉर्म की मदद से बेहोश करने का तरीका आम है। जिसके बारे मे आप फिल्मों के अंदर भी देखते होंगे । सबसे पहले आपको एक रूमाल लेना है। और उस रूमाल पर क्लोरोफॉर्म लगादें और उसके बाद उसे किसी जानवर के मुंह के उपर रखदें । जब जानवर सांस लेगा तो कैमिकल उसके अंदर चला जाएगा। ‌‌‌और 15 सैकिंड के अंदर व्यक्ति बेहोश हो जाएगा ।

आमतौर पर गलत किस्म के लोग इसी तरीके से बेहोश करते हैं। वे रूमाल पर क्लोरोफॉर्म लगाने के बाद व्यक्ति के मुंह के उपर उस रूमाल को जबरदस्ती रखदेते हैं। और उसे नचाहते हुए भी सांस लेना पड़ता है। जिसके परिणाम स्वरूप वे बेहोश हो जाते हैं।

‌‌‌बेहोश होने के बाद रिकवरी करना

  • बेहोश हो जाने के बाद रिकवरी के अंदर आपको 15 से 20 मिनट का समय लग सकता है। इसलिए खड़े होने मे जल्दबाजी कभी ना करें । क्योंकि ऐसा करने से वापस बेहोश होने का डर बना रहता है। इस वजह से बेहतर होगा आप लेटे रहें ।
  • ‌‌‌बेहोश हो चुके इंसान को जल्दी ठीक करने का सबसे आसान तरीका है। उसके पैरों को उपर की ओर उठा लेना चाहिए । जिसका फायदा यह होगा कि दिमाग के अंदर रक्त आपूर्ति बढ़ जाएगी । और व्यक्ति को जल्दी होश आ जाएगा ।
  • ‌‌‌बेहोशी को पूरी तरह से सही करने के लिए आपको अपनी नाक से सांस ले औंर उसके बाद उसे अपने मुंह की मदद से छोड़ें । ऐसा कई बार करें । जिससे आपके दिमाग मे अच्छी तरह से ऑक्सीजन पहुंचेगी ।
  • डिहाइड्रेशन भी बेहोश होने की वजह हो सकती है। यदि आप एक बार बेहोश होने के बाद दुबारा बेहोश नहीं होना चाहते हैं तो आपको पूरे दिन भरपूर पानी पीना होगा । इस दौरान आपको ड्रिंक यानी अल्कोहाल का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • ‌‌‌दिन मे कई बार खाना खाएं । यदि आप बेहोशी के असर को कम करना चाहते हैं तो आपको दिन के अंदर कई बार थोड़ा थोड़ा खाना खाना चाहिए ।
5 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *