कठिन विषय पढ़ने से पहले जरूर करे यह काम who read hard subject tip

हर स्टूडेंट के लिए कुछ विषय काफी सरल होते हैं तो कुछ विषय काफी कठिन हो जाते हैं। वैसे इसकी वजह होती है हमे उस विषय के बारे मे ज्ञान की कमी ।और जब स्टूडेंस ऐसे विषय को लेकर बैठ जाते हैं तो वे बोर होने लगते हैं।उनको नींद आने लग जाती है। ‌‌‌
यह उनके साथ रोज होने लगता है। और फिर धीरे धीरे कठिन विषयों को पढ़ने का उनका मन कम हो जाता है। इस प्रकार वे उस विषय के अंदर और कमजोर होते जाते हैं। हमने कई ऐसे स्टूडेंट को भी देखा है जोकि बाद मे टफ चीजों को पढ़ना ही बंद कर देते हैं। उसमे पास होना तो भगवान भरोस छोड़ देते हैं।
‌‌‌आज हम आपको इस बारे मे कुछ जरूरी बाते बताने जा रहे हैं जिनका पालन आपको करना चाहिए ।

‌‌‌सबसे पहले कठिन विषय को ही पढ़ें

यदि आप सबसे पहले कठिन विषयों को पढ़ते हैं तो आपको अपनी एनर्जी का फायदा मिलता है। जब आप पहले कठिन विषयों को पढ़ना शूरू करते हैं तो आप उसको अच्छे से समझ पाएंगे । क्योंकि पहले आपके अंदर काफी एनर्जी होती है।
जब आप बाकी विषयों को पढ़ने के बाद अंत मे कठिन  ‌‌‌विषय पढ़ते हैं तो आप पहले ही मानसिक रूप से थके होते हैं तो आपको नींद आने लग जाती है। और आपकी चीजों को समझने की क्षमता भी कम होती है क्योंकि तब आपका मन भी उबने लगता है।
‌‌‌हांलाकि ऐसा हो सकता है आपका मन पहले सरल विषयों को पढ़ने का करे पर इस बात को आपको नजर अंदाज कर देना चाहिए ।

‌‌‌अपनी पसंदिदा कामों के बारे मे कभी ना सोचे

दरसअल जब हम कोई कठिन काम करते हैं तो अचानक से हमारा दिमाग अपनी पसंदिदा कामों के बारे मे सोचने लगता है। यदि आप कठिन विषय पढ़ने जा रहे हैं तो कोशिश करें की आपका दिमाग पसंदिदा कामों के बारे मे ना सोच पाए । क्योंकि इस तरह के कामों के बारे मे या ‌‌‌चीजों के बारे मे ना सोचे जोकि आपके मन को भटका सकती हैं। यदि एक बार आपका मन इस तरह की बातों के बारे मे सोचने लग जाता है तो वह सोचता ही चला जाता है।
इसके फलस्वरूप आपका मन पढ़ने मे नहीं लगेगा । और आप चीजों को समझ नहीं पाएंगे । तो आपको वह विषय और कठिन लगने लगेगा । ‌‌‌और इसके साथ ही अपको शौर गुल माहौल से भी दूर रहना चाहिए क्योंकि इस तरह का माहौल आपका मन भटकाता है। पढाई के लिए ऐसी जगह चुने जोकि काफी शांत हो ।

‌‌‌पढ़ने से पहले अपने दिमाग को इसके अनुरूप बनाएं

दोस्तों बहुत से स्टूडेंट अपने दिमाग को सही से तैयार करने मे असफल हो जाते हैं। जिसकी वजह से वे कठिन विषयों को और कठिन बनाते चले जाते हैं। यदि आप कठिन विषय पढ़ने जा रहे हैं
तो सबसे पहले अपने दिमाग के अंदर यह डेटा स्टोर करलें कि केवल आप ही ‌‌‌ऐसे व्यक्ति नहीं हैं जोकि यह काम करने जा रहे हैं दरसअल बहुत से लोगों को अपनी जिंदगी के अंदर सफल होने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। आपको चाहिए कि आप अपने दिमाग के अंदर कुछ ऐसे लोगों के करेक्टर रखें जिन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के दम पर सफलता पाई। और जब भी आपका मन उबने लगे तो इन लोगों के ‌‌‌बारे मे सोचे । एक बात और आपको याद रखनी चाहिए कि सफलता का कोई शॉर्ट कट नहीं है। बस आपकी मेहनत ही आपको कामयाब बना सकती है।

‌‌‌आपको अपनी असली हालत को कभी नहीं भूलना चाहिए

यह बात सच है की हम मे से बहुत से लोग गरीब परिवारों से होते हैं। और हो सकता है कि किसी का पिता सब्जी बेचकर अपना गुजारा करता हो तो किसी का पिता दूध बेचकर । यदि आप चाहते हैं कि आप अपने दिनों को बदल सकें तो आपको मेहनत करनी ही होगी । तब तक उस ‌‌‌कठिन विषय को पढ़ते रहें जब तक आपको वह आसान ना लगने लगे । और बार बार जब ही आप निराश होतो सोचे कि आपको अपने घर की हालत मे सुधार करना है। अपने मां बाप को पैसा देना है। उनका नाम रोशन करना है। उसका बस यही एक तरीका है।

‌‌‌चीजों को समझने के लिए पढ़ने रटे नहीं

आपको यह पहले ही तय करना है कि आप हर विषय की चीजों को समझेंगे । उनको रटेंगे । नहीं दरसअल जब हम किसी विषय की चीजों को रटने की कोशिश करते हैं तो वह विषय हमे काफी कठिन लगने लग जाता है। एक तो रटन विधि के अंदर समय अधिक लगता है।
दूसरी इसमे आप का ‌‌‌आत्मविश्वास भी कम होता है। और कुछ विषय ऐसे होते हैं जोकि रटने की विधि पर काम नहीं करते हैं। यदि आप रटू हैं तो आपको अपनी रटन विधि का त्याग करना चाहिए । क्योंकि ऐसा करने से आपका विषय कठिन बन जाता है। यदि चीजे आपके समझ मे कम आती हैं तो टीचर से पूछें । फिर भी समझ मे नहीं आती तो दोबार ‌‌‌पूछे । और घर पर अभियास करें ।

‌‌‌किसी भी पसंदिदा कामों को ताक पर रखकर कभी कठिन विषय नहीं पढ़ें

‌‌‌कई बार हमने देखा है की कुछ स्टूडेंट अपने किसी पसंदिदा काम को ताक पर रखकर कठिन विषय को पढ़ने तो बेठ जाते हैं लेकिन याद कुछ नहीं कर पाते । हमारा यहां ताक का मतलब जैसे आपका पसंदिदा धारावाहिक आने मे कुछ समय बाकी है। या आपको कोई पसंदिदा काम करना है। जिसको करने या देखने मे आपका काफी खुश हैं।
‌‌‌यदि ऐसी स्थिति के अंदर यदि आप पढ़ते हैं तो आपका मन भटकने लग जाता है। इस समय आपको वो विषय पढ़ना चाहिए जोकि एकदम से सरल हो जिसको याद करना आसान लगता हो । लेकिन यदि आप ऐसे समय कठिन विषय ही पढ़ रहे हैं तो आप अपना समय वेस्ट कर रहे हैं।

‌‌‌कठिन विषय पढ़ने से पहले ध्यान लगाएं

आपको चाहिए कि कठिन विषय पढ़ने से पहले अपने मन को स्थिर करने से पहले ध्यान लगाएं ताकि आपका मन स्थिर हो सके । अपने मन के अंदर बेकार के विचारों पर ब्रेक लगादें । इसका एक फायदा यह होता है कि आपको पता लग जाता है कि अब आप तैयार हैं या नहीं ।

‌‌‌सही प्लानिंग रखें

यदि आपको कुछ विषय अधिक कठिन लगते हैं तो अपने स्टडी टाईम टेबल मे इनके टाईम को अधिक बढ़ा ले । ताकि आप इनको अधिक समय दे सकें । यदि आप पहले से ही सही प्लानिंग करके चलते हैं तो तो आपका हार्ड विषय हार्ड नहीं लगेगा ।‌‌‌प्लानिंग के अंदर वो सब कुछ आता है। कि कौनसा विषय कब कैसे पढ़ना है।

 

‌‌‌यदि आपको हमारी बातों को समझने मे कोई समस्या आ रही है तो नीचे कमेंट कर बताएं हम आपकी समस्या हल करेंगे ।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!