आदर्श विद्यार्थी के 9 गुण हर good student के अंदर होते हैं यह 9 गुण

आदर्श विद्यार्थी,आदर्श विद्यार्थी के गुण,आदर्श विद्यार्थी के 9 गुण

एक आदर्श विद्यार्थी के अपने अलग ही गुण होते हैं। एक आदर्श विद्यार्थी दूसरे विद्यार्थी से अलग होता है। वह अपना काम समय पर करता है और परीक्षा के अंदर अच्छे अंक लेकर आता है। और हर अच्छे काम को दूसरों से बेहतर करने की कोशिश करता है।

लेकिन वहीं स्कूल के अंदर बुरे विद्यार्थी भी होते हैं। जिनकी ‌‌‌संख्या काफी ज्यादा होती है। वे स्कूल के अंदर सिर्फ मौजमस्ती करते हैं। और कोई भी काम समय पर नहीं करते । दोस्तों  स्टूडेंट लाईफ इंसान की सबसे महत्वपूर्ण लाईफ होती है। इस उम्र के अंदर वह जो कुछ करता है। उसका पूरा प्रभाव उसकी जिंदगी पर पड़ता है।

आदर्श विद्यार्थी के 9 गुण

‌‌‌यदि आप अभी स्टूडेंट लाईफ के अंदर हैं तो एक आदर्श विद्यार्थी बनने की कोशिश करें । ताकि बाद मे आपको जिंदगी के अंदर संघर्ष नहीं करना पड़े । और आप आराम से अपनी लाईफ के मजे ले सको । ‌‌‌एक आदर्श विद्यार्थी के अंदर क्या गुण होते हैं। इस लेख के अंदर हम आपको बता रहे हैं।

1. Focus his own goals

 

‌‌‌जब आम स्टूडेंटों को यह भी पता नहीं होता है कि उन्हे लाईफ के अंदर आगे क्या करना है? तो एक अच्छे स्टूडेंट को सब कुछ पता होता । उसे इस बात का पूरा पता रहता है कि वह आगे क्या बनना चाहता है और इसके लिए उसे क्या करना होगा ? मतलब वो स्टूडेंट छोटी सी उम्र मे ही अपने गोल्स के बारे मे या अपने ‌‌‌लक्ष्य के बारे मे सोचने लग जाता है। जबकि class  के अन्य स्टूडेंटस को यह भी पता नहीं होता है कि गोल्स होता क्या है? वे इस समय मजे करने मे अपना टाइम व्यतीत करते हैं। जो बाद मे उनको महंगा पढ़ता है। लेकिन काफी समय बाद उनको पता चलता है की काश उस वक्त वे पढ़ लेते तो आज यह दिन नहीं देखना पड़ता।

 

‌‌‌यदि आप भी अच्छे स्टूडेंट बनना चाहते हैं तो आज से अभी से अपना कोई लक्ष्य तय करें । और उसको पाने के लिए दिन रात एक कर दें ।

 

‌‌‌2. अच्छा टाईम मैनेजमेंट

 

हर टॉपर स्टूडेंट की बात करें तो उसके अंदर एक सबसे बड़ा गुण जो होता है। वों टाईम मैनेजमेंट का होंता है। मतलब वे अपना हर काम समय पर करते हैं। जैसे कि उनको कब पढ़ना है? और कब कब खेलने जाना है? और कब अन्य काम करने जाना है? मतलब वे अपने समय के हर हिस्से को अलग अलग काम के ‌‌‌अंदर डिवाईड कर रखा होता है। लेकिन एक आम स्टूडेंट का कोई टाईम मैनेजमेंट नहीं होता है। वह जब मन करे पढ़ता है ।

आदर्श विद्यार्थी के 9 गुण

जब मन करे खेलता है। यही वजह है कि वह काफी पीछे रह जाता है। वह कोई भी काम समय पर नहीं कर पाता है। और लाईफ के अंदर सक्सेसफुल नहीं बन पाता ।‌‌‌यदि आप एक अच्छे स्टूडेंट बनने की कोशिश कर रहे हें तो आपको टाईम मैनेजमेंट को भी स्वीकार करना होगा । और अपना हर काम समय पर करना होगा ।

 

 

‌‌‌3. लगातार हार्ड वर्क करने की आदत

‌‌‌जैसा कि आपने कहावत सुनी होगी की नरम रस्सी भी यदि रोज एक पत्थर के उपर से घिसी जाती है तो पत्थर पर रस्सी के निशान बन जाते हैं। ठीक वैसे ही कोई अच्छा स्टूडेंट जन्म से ही अच्छा पैदा नहीं होता है। वरन वह लगातार प्रयास करता है। हार्ड वर्क करता है।

 

इसी लिए वह एक अच्छा स्टूडेंट बन जाता है। ‌‌‌एक अच्छे स्टूडेंट का सबसे बड़ा गुण  उसकी हार्ड वर्क करने की आदत है। और इसके साथ ही निरंतर प्रयास करने की आदत भी एक अच्छे स्टूडेंट के अंदर होती है। वे लगातार प्रयास करते रहते हैं। यदि आप एक दिन प्रयास करेंगे और दूबारा प्रयास नहीं करेंगे तो आप अच्छे स्टूडेंट के अंदर नहीं आएंगे । ‌‌‌हर अच्छे स्टूडेंट के अंदर यह आदत होती है।

 

‌‌‌4. अधिक मानसिक एकाग्रता

 

‌‌‌यह काफी बड़ा गुण अच्छे स्टूडेंटस के अंदर होता है। वे मानसिक रूपसे काफी ज्यादा एकाग्र होते हैं। जबकि आम स्टूडेंट मानसिक रूप से उनके जितना एकाग्र नहीं रह पाता है। यदि आम स्टूडेंट को भी रूप से एकाग्र बनने की क्षमता देदी जाए तो वह भी आसानी से एक अच्छा स्टूडेंट बन सकता है। अच्छे स्टूडेंट  ‌‌‌के पास अच्छी मानसिक एकाग्रता होने के पीछे कई वजह होती हैं। वह यह कि ऐसे स्टूडेंट का कोई भी प्रिय काम नहीं होता है। और शहरी स्टूडेंट अधिक मानसिक रूप से एकाग्र होता है। वह ऐसे ही घर के अंदर बैठे रहते हैं। जबकि कुछ स्टूडेंट अधिक एंजोय करने लग जाते हैं। जिसकी वजह से वे पढ़ाई को बोरिंग समझने ‌‌‌लग जाते हैं। मतलब जो इंसान सरल काम करता है । उसे  बादमे टफ काम करवाएं तो उसे अच्छा नहीं लगता है। और जो ठफ काम से ही र्स्टाट करता है। उसके लिए हर चीज सरल हो जाती है।

 

‌‌‌5. अपना समय वेस्ट नहीं करते

 

‌‌‌अच्छे स्टूडेंस अपना समय बेकार के कामों के अंदर खर्च नहीं करते हैं। जैसे अधिक देर तक टीवी देखना या कोई मूवी के अंदर अपना समय खराब करना । वे टीवी को उतनी ही देकर  देखते हैं। जितनी देर तक उनका मूड सही ना हो जाए । या उनके पास कोई फ्री टाइम ‌‌‌हो। वे इधर उधर घूम कर भी अपना समय बरबाद नहीं करते हैं।

 

‌‌‌लेकिन आम स्टूडेंट आपको गांवों और शहरों के अंदर बिना किसी वजह के गलियों के अंदर घूमते हुए मिल जाएंगे । उनको इस बात से कोई मतलब नहीं है कि उनका टाइम वेस्ट हो रहा है या नहीं ? लेकिन अच्छे स्टूडेंट अपने समय को कभी खराब नहीं करते हैं। वे अपने समय की हमेशा ही कद्र करते हैं।

 

‌‌‌6. कुछ ना कुछ सीखने की ललक

अच्छे स्टूडेंट के अंदर हमेशा चीजों को लेकर जिज्ञासा ही बनी रहती है। मतलब उनके दिमाग के अंदर हमेशा किसी ना किसी चीज को लेकर प्रश्न चलते ही रहते हैं। आपने भी इस बात को देखा होगा कि कलॉश के होशियार स्टूडेंट अपने टीचर से कई सारे सवाल पूछते हैं। जबकि कमजोर स्टूडेंट ‌‌‌कुछ नहीं पूछ पाते हैं।

 

ऐसा क्यों होता है ? इसकी वजह होती है कमजोर स्टूडेंटों के अंदर सीखने की ललक बहुत कम होती है। और उनके दिमाग के अंदर कोई जिज्ञासा भी पेदा नहीं होती है। क्योंकि वे चीजों को अच्छी तरह से समझ नहीं पाते हैं। ‌‌‌यदि आप अच्छे स्टूडेंट बने रहना चाहते हैं तो आपको सीखने की ललक पैदा करनी होगी ।

 

‌‌‌7. हर गलती से सीख लेने का गुण

 

एक अच्छे स्टूडेंट हमेशा ही वो ही बन पाते हैं जो अपनी गलती से सीखने की क्षमता रखते हों बहुत से स्टूडेंट ऐसे भी होते हैं जिनको इस बात से कोई मतलब ही नहीं होता है कि वे कहां पर गलती कर रहे हैं ? क्या गलती कर रहे हैं? लेकिन एक अच्छे स्टूडेंट यदि एक बार परीक्षा के ‌‌‌अंदर एक बार असफल भी हो जाते हैं तो अपनी कमियों को खोजते हैं।

 

और यह जानने की कोशिश करते हैं कि वे क्यों असफल हो गए ? सारी कमियों के अंदर सुधार करने के बाद फिर से वे प्रयास करते हैं और अंत मे उनको सफलता मिल ही जाती है। लेकिन जो स्टूडेंट अच्छे नहीं होते हैं। वे बिना अपनी कमजोरियों को दूर ‌‌‌करे ही बार बार प्रयास करते हैं ।और हर बार असफल हो जाते हैं।

 

‌‌‌8. सकारात्मक सोच

 

आपने यह देखा होगा कि लगभग हर अच्छा स्टूडेंट हमेशा पॉजिटिव सोचता है। वह इस प्रकार से नहीं सोचते हैं कि वह असफल हो जाएंगे ।वरन वे काफी उंची सोच  रखते हैं। जैसे उनको उतने प्रतिशत मार्क्स आएंगे । वैगरह वैगरह । मतलब वे हर चीज को सकारात्म नजरिये से देखते हैं। जबकि आम स्टूडेंट ‌‌‌परीक्षा के समय घबरा जाता है। लेकिन वे ऐसा नहीं करते हैं।

 

‌‌‌9. बढ़िया आत्मविश्वास

 

एक अच्छे स्टूडेंटस के अंदर आत्मविश्वास भी अच्छा होता है। अच्छे आत्मविश्वास होने की वजह होती है। उनकी कठिन मेहनत । उनको लग भग सारी चीजे याद रहती हैं। जिसकी वजह से उनको लगता है कि कोई प्रश्न सिलेबस से बाहर से तो आ नहीं सकता । आएगा तो सिलेबस के अंदर से ही । सो ‌‌‌वो तो उनको पूरा याद है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *