kangi ko angrezi me kya kehte hain और कंघी का इतिहास

इस लेख के अंदर हम बात करेंगे सबसे पहले kangi ko angrezi me kya kehte hain हैं पर उसके बाद kangi के इतिहास पर नजर डालेंगे । जानेंगे कि कंघी का आविष्कार किस प्रकार से हुआ था । इसके विकास के अंदर कितना समय लगा ? वैगरह पर

kangi ko angrezi me kya kehte hain

‌‌‌कंघी को english मे COMB कहा जाता है। जिसका अर्थ होता है कंघी से अलग करना। अंग्रेजी के अंदर कंघी करने को comb-out कहा जाता है और कंघी के समान आकार की वस्तुओं को pectin नाम से जाना जाता है।

 

  • कंघी करना – coif
  • कंघी करना- comb
  • कंघी करना- comb out
  • कंघी करना- tease
  • कंघी से अलग करना- comb
  • कंघी से सन साफ करना- hackle
  • कंघी से साफ़ करना- card

 

  • noun
  • कंघी करना- comb-out
  • कंघी के समान आकार- pectin
  • कंघी बनानेवाले की रेती- Grail

‌‌‌कंघी हजारों सालों पहले ही बन चुकी थी । इसका प्रयोग बालों को सुलझाने के लिए और उनको व्यवस्थित करने के लिए किया जाता है। कंघी बालों की मोटाई के हिसाब से आती है। प्रचीन काल के अंदर भी कई प्रकार की कंघी बनाई जाती थी ।

वह कंघी का सबसे पुराना उपयोग 5,000 साल पहले तक देखा जा सकता है। वास्तव में, कंघी के प्राचीन संस्करण पुरातात्विकों द्वारा पूरे इतिहास में पाए गए हैं। 5500 बीसी के शुरू में प्राचीन मिस्रवासियों ने उभरती संस्कृतियों के अन्य अवशेषों के बीच कॉम्ब्स तैयार किए। प्राचीन चीन में, कॉम्ब्स बाल सहायक उपकरण के रूप में पहने जाते थे जो किसी की सामाजिक स्थिति को दर्शाते थे।

समय के साथ, बालों के रखरखाव और बालों की देखभाल के लिए कॉम्ब्स अधिक कुशल उपकरण में विकसित हुए हैं। आज, आपके बालों की लंबाई, बनावट और प्रकार के आधार पर सैकड़ों विभिन्न कॉम्ब्स हैं।

Kangi ‌‌‌का इतिहास

‌‌‌जैसा कि आप जानते होंगे कि कंघी के अंदर कुछ खड़े दांते होते हैं। जिनकी मदद से आप अपने बालों को सही कर सकते हो । उनको एडजस्ट करके और अधिक सुंदर दिखने के लिए बना सकते हो । आज प्लास्टिक की कंघी आती है। लेकिन पहले के समय मे सुंगधित लकड़ी की कंघी भी आती थी । इसके अलावा हाथी दांत कछुए की कंघी ‌‌‌भी आती थी । लेकिन अब अधिकतर प्लास्टिक की कंघी आती है। कंघी की मोटाई भी अलग अलग आती है। आजकल जो कंघी प्रयोग मे ली जाती है। उसके अंदर दो खांचे बने होते हैं। मोटे और पतले जिनकी मदद से बालो को सही किया जाता है।

‌‌‌कंघी से हुआ  thumb piano का आविष्कार

आज जो piano हम यूज करते हैं। वह बहुत बाद मे आया था । पियानों से पहले कंघी का आविष्कार हुआ था । पहले कंघी के दांते आज की तरह समान आकार के नहीं थे । वरन वे छोड़े बड़े होते थे । और स्टील आदी के बने होने से अलग अलग आवाजे भी निकालते थे । उस समय की कंघी ने thumb piano ‌‌‌का आविष्कार कर दिया था ।

प्राचीन काल के अंदर चलने वाली कंघी

प्राचीन काल के अंदर कई प्रकार की कंघी प्रयोग होती थी । वे देखने मे आज के लुक जैसी नहीं थी । उनकी डिजाइन भी कोई खास नहीं थी । लेकिन कई कंघियां काफी कीमती भी होती थी । खास कर हाथि के दांत से बनाई जाने वाली कंघियां ।

Afro pick

इस प्रकार के कंघी में ढीले, मोटे दांत होते हैं और आमतौर पर अजीब या एफ्रो-बनावट वाले बालों पर प्रयोग किया जाता है। यह ठेठ कंघी से लंबा और पतला होता है, और इसे कभी-कभी बालों में भी पहना जाता था ।

comb

Nit comb

यह कंघी आमतौर पर लकड़ी की बनी होती है।यह पाषाण युग की कंघी है। इस कंघी का प्रयोग सिर पर मौजूद किसी परजीवी को हटाने के लिए किया जाता था । लेकिन इस बात का तो मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि इसकी मदद से कोई परजीवी हट जाता होगा।

अटूट प्लास्टिक कंघी

20 शताब्दी के आस पास प्लास्टिक की कंघी का प्रयोग किया जाने लगा था । जो कुछ आधुनिक कंघी के समान ही थी । लेकिन इसकी खास बात यह थी कि यह गिरने पर टूटती नहीं थी । प्लास्टिक की बनी होने के कारण हल्की भी होती थी ।

Mordan comb

‌‌‌बाद मे प्लास्टिक की कंघी को नया लुक दिया गया । पहले प्लास्टिक की कंघी के दांते भी अलग अलग आकार के होते थें । उसके बाद वर्तमान मे दांतों की लंबाई समान करदी गई। और कंघी के आकार को छोटा करके इसे और अधिक मोर्डन बनाया गया । चार्ल्स गुडिययर 1843 वल्कनाइजेशन प्रक्रिया के बाद ही रबर का प्रयोग कंघी बनाने के लिए किया जा सका था । एंड्रयू जैक्सन और हेनरी क्ले जैसे प्रमुख राजनेताओं से सम्मान अर्जित किया,

 

Do Electric Lice Combs

यह कंघी का एक नया ही वर्जन है। जैसा कि आपको नाम से ही पता चल गया होगा कि यह एक Electric Combs है। जोकि बैटरी की मदद से काम करता है। यदि आप जूं से परेशान हैं तो Do Electric Lice Combs आपके लिए फायदे मंद हो सकता है। ‌‌‌वैसे यह साधारण कंघी को टक्कर देने मे सक्षम नहीं है।

electric comb

‌‌‌इस कंघी के अंदर धातु के दांत होते हैं और इनके सिरे पर रबर चढ़ा होता है। यह एक बैटरी से संचालित होता है। सिर के अंदर मौजूद जूं को हटाने के लिए यह कंघा सबसे बेहतर है। इसको बनाने वाली कम्पनी का कहना है कि यदि आप इसका प्रयोग 10 दिन तक करते हैं तो आपके सिर के अंदर एक भी जूं नहीं बचेगी । और यह ‌‌‌कैमिकल फ्री है।

क्या यह वास्तव में जूँ से छुटकारा पाता है?

electric comb पर आंकड़ों पर नजर डालें तो इसके रिव्यू मिक्स सा आ रहा है। 76 रिव्यू के अंदर 36 लोगों ने इसको 3 सितारे या स्टार दिये हैं। जबकि कुछ लोगों ने इसको यूजलेश भी बताया है। कुल मिलाकर एक ‌‌‌अनय यूजर का कहना है कि यह comb उपयोगी तो है लेकिन इसको यूज करने से पहले इसके निर्देशों को अच्छी तरह से पढ़ लेना चाहिए

kangi ko angrezi me kya kehte hain

और कंघी के रोचक इतिहास पर लिखा हमारा लेख आपको कैसा लगा कमेंट करके बताएं

source

आग पर चलने का जादू कैसे करें ? आग पर कैसे चलें magic tip

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *