नागमणी और उसका रहस्य naag mani or rhayse

दोस्तों नागमणी पर अनेक तरह की फिल्मे बन चुकी हैं। अनेक तरह की कहानियां भी इस संबंध मे आपको पढ़ने को मिल जाती हैं। लेकिन अभी तक यह कोई भी दावा नहीं कर पाया है कि नागमणी है कि नहीं यानि अभी भी यह एक रहस्य बना हुआ है।
‌‌‌ज्योतिष के ग्रंथ व्रहतसहिंता के अनुसार संसार के अंदर मणीधारी नाग मौजूद हैं। चूंकि ऐसे नागों का मिलना दूर्लभ माना जाता है। इसलिए अब तक यही माना जा रहा है कि नागमणि नहीं होती है।
‌‌‌नागमणी काफी चमकीली होती है। और यह अन्यमणियों से अधिक प्रभावी भी होती है।
‌‌‌हांलाकि नागमणी के देखे जाने की घटनाएं भी बहुत कम या नहीं के बराबर है। एक वेबसाईट की खबर के मुताबिक चोलापुर ब्लाक के कटारी गांव के अंदर दो युवकों द्वारा नागमणी के देखे जाने का दावा किया गया है।
‌‌‌दोनों युवकों का यह मानना है कि उन्होने नागमणी को देखा है। और उसकी तस्वीरें भी ली हैं। उनके अनुसार जब वे रात को खेत मे जा रहे थे तो एक पेड़ पर दो नाग आपस मे लिपटे हुए पाए गए उनके पास एक चमकीली वस्तु भी थी
‌‌‌हांलाकि उनकी बातें कहां तक सच हैं इस बारे मे कुछ कहा नहीं जा सकता है।

‌‌‌नागमणी से जुड़ी कुछ रोचक बातें
नागमणी नाग के सर पर स्थित होती है।
नागमणी मोर कंठ के समान चमकीली होती है।
यह प्रभावशाली और अलौकिक होती है।
जिसके पास यह होती है वर रोग मुक्त होता है।
उस पर विष का प्रभाव नहीं होता है।
‌‌‌नागमणि के बारे मे यह कहा जाता है कि जिसके पास नागमणि होती है। वह सदैव विजय प्राप्त करता है। और उसका राज्य खुशहाल रहता है।
‌‌‌क्यों रखते हैं  नाग अपने पास मणी

 

कहा जाता है कि नाग अपने पास नागमणी इसलिए रखते हैं ताकि उसकी चमक से आसपास के कीड़ों को खा सके हांलाकि नागमणि के बारे मे और अधिक जानकारी उपल्बध नहीं होने की वजह से यह आज भी एक रहस्य है।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *